depo 25 bonus 25 to 5x Daftar SBOBET

Supreme Court: अग्निपथ की वैधता को चुनौती देने वाली याचिका सुप्रीम कोर्ट में खारिज

नेशनलSupreme Court: अग्निपथ की वैधता को चुनौती देने वाली याचिका सुप्रीम कोर्ट...

Date:

नई दिल्ली। देश में सैन्य बलों की भर्ती के लिए लाई गई अग्निपथ योजना की वैधता को चुनौती देने वाली दो याचिकाओं को सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दिया है। सुप्रीम कोर्ट ने अग्निपथ की वैधता को सही ठहराने वाले दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले को बरकरार रखा है। वहीं अग्निपथ योजना के लागू होने से पहले भारतीय वायुसेना में भर्ती से संबंधित याचिका पर सुप्रीम कोर्ट सुनवाई के लिए तैयार हो गया है।

सुप्रीम कोर्ट इस याचिका पर 17 अप्रैल को सुनवाई करेगा। बता दें कि अग्निपथ योजना आने के बाद भारतीय वायु सेना में भर्ती की पुरानी योजना को निरस्त कर दिया गया। इससे भर्ती में शॉर्टलिस्ट किए गए उम्मीदवारों की नियुक्ति खटाई में पड़ गई। अब सर्वोच्च अदालत इस मामले पर सुनवाई करेगी।

अग्निपथ योजना की संवैधानिक वैधता रखी थी बरकरार

बीते फरवरी महीने में दिल्ली हाईकोर्ट ने अपने एक फैसले में अग्निपथ योजना की संवैधानिक वैधता को बरकरार रखा था। अदालत ने कहा कि ‘जिन नीतिगत फैसलों का देश के स्वास्थ्य और रक्षा क्षेत्र पर बड़ा असर पड़ता है, वो फैसले उन्हीं निकायों को लेने चाहिए, जो इनके विशेषज्ञ हैं।’

जस्टिस सतीश चंद्र शर्मा और जस्टिस सुब्रमण्यम प्रसाद की डिवीजन बेंच ने अपने फैसले में पूर्व में दिए फैसलों की श्रृंखला का उल्लेख करते हुए कहा कि ‘जब तक सरकार द्वारा लिए गए नीतिगत फैसले मनमाने, भेदभावपूर्ण या संविधान के किसी प्रावधान और कानून का उल्लंघन नहीं करते हैं तो अदालत इस तरह के नीतिगत फैसलों पर सवाल नहीं उठाएगी।’

ये है अग्निपथ योजना

अग्निपथ योजना की शुरुआत जून 2022 में हुई। इस योजना के तहत हर साल साढ़े सत्रह साल से 21 साल के बीच के करीब 45-50 हजार युवाओं को सेना में भर्ती किया जाएगा। इनमें से अधिकतर चार साल की सेवा के बाद सर्विस से बाहर हो जाएंगे और सिर्फ 25 प्रतिशत को ही अगले 15 साल के लिए सेवा जारी रखने के लिए चुना जाएगा।

सरकार की अग्निपथ योजना का देशभर में बड़े पैमाने पर विरोध भी हुआ था। हालांकि दिल्ली हाईकोर्ट ने अपने फैसले में अग्निपथ योजना को देशहित में माना और कहा कि इससे हमारे सुरक्षा बल ज्यादा बेहतर बनेंगे।

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related

जम्मू-कश्मीर में चुनाव से पहले केंद्र ने राज्यपाल की शक्तियां बढ़ाई

विधानसभा चुनाव को देखते हुए मोदी सरकार ने जम्मू-कश्मीर...

ओली फिर बने नेपाल के प्रधानमंत्री

केपी शर्मा ओली एक बार फिर नेपाल के नए...

भारी गिरावट से उबरा बाजार, सेंसेक्स 426 अंक गिरकर बंद

10 जुलाई को भारतीय बेंचमार्क सूचकांक सेंसेक्स और निफ्टी...

उपचुनावों में इंडिया गठबंधन भारी बढ़त की तरफ, सुखू की पत्नी विजयी घोषित

पंजाब में जालंधर पश्चिम उपचुनाव में आम आदमी पार्टी...