depo 25 bonus 25 to 5x Daftar SBOBET

त्रिफला चूर्ण के फायदे और नुकसान

हेल्थत्रिफला चूर्ण के फायदे और नुकसान

Date:

Triphala Churna: त्रिफला चूर्ण एक विशेष पादप औषधि है जिसका उपयोग लोग एक विशेष तरीके से करते हैं जिसे आयुर्वेद कहा जाता है। यह विभिन्न बीमारियों को दूर करने में मदद कर सकता है। अगर किसी को लंबे समय से कब्ज है तो भी त्रिफला चूर्ण का सेवन करने से उन्हें बेहतर महसूस हो सकता है। प्रतिदिन त्रिफला चूर्ण (Triphala Churna) का सेवन करने से शरीर स्वस्थ रहता है और बीमार होने से बचाता है।

त्रिफला क्या है | What Is Triphala?

त्रिफला तीन फलों का एक विशेष मिश्रण है जिन्हें आंवला, हरीतकी और बिभीतकी कहा जाता है। इन फलों को एक साथ मिलाकर एक औषधि बनाई जाती है जो हमारे शरीर के लिए अच्छी होती है और हमें स्वस्थ रहने में मदद कर सकती है। इसे त्रिफला इसलिए कहा जाता है क्योंकि इसमें तीन फल होते हैं। जो लोग आयुर्वेद, एक प्रकार की चिकित्सा पद्धति, का अध्ययन करते हैं, उनका मानना ​​है कि त्रिफला हमें मजबूत रख सकता है और हमें बीमार होने से बचा सकता है।

Also Read: apple cider vinegar benefits in hindi

त्रिफला चूर्ण निम्नलिखित विभिन्न जड़ी बूटियों को मिलाकर बनाया जाता है | Triphala Churna is made by mixing the following various herbs.

बहेड़ा | Baheda: बहेड़ा भारत में उगने वाला एक पौधा है। इसके फल में गैलिक एसिड और टैनिन जैसी कई खास चीजें होती हैं। लोग आयुर्वेद में अलग-अलग कारणों से बहेड़ा के चूर्ण, जिसे त्रिफला कहा जाता है, का उपयोग करते हैं, जैसे सांस की समस्याओं में मदद करना और लीवर की रक्षा करना।

आंवला | Gooseberry: आंवला एक ऐसा फल है जो भारत में बहुत लोकप्रिय है। इसका उपयोग भारतीय भोजन में किया जाता है और यह वास्तव में हमारे शरीर के लिए अच्छा है। आंवले में विटामिन और खनिज जैसे बहुत सारे अच्छे तत्व होते हैं जो हमें स्वस्थ रखने में मदद करते हैं। इसमें विटामिन सी नामक एक विशेष विटामिन होता है जो हमें बीमारी से लड़ने में मदद करता है। यह हमारे पेट को स्वस्थ रखने में भी मदद करता है और हमें कब्ज़ होने से बचाता है। आंवला वास्तव में हमारी त्वचा के लिए भी अच्छा है और हमें युवा और तरोताजा दिखने में मदद करता है।

हरड़ | Myrobalan: एक विशेष पौधा है जो वास्तव में आयुर्वेद में महत्वपूर्ण है, जो भारत की एक पारंपरिक औषधि है। इसमें विशेष शक्तियां हैं जो हमारे शरीर को स्वस्थ और मजबूत रखने में मदद कर सकती हैं। यह हमें युवा बने रहने में मदद कर सकता है, हमारे शरीर में सूजन को कम कर सकता है और हमें एंटीऑक्सीडेंट नामक हानिकारक चीजों से बचा सकता है। आयुर्वेद में, यह विशेष रूप से हमारे पेट, लीवर, हृदय और मूत्राशय की देखभाल के लिए अच्छा है। 

त्रिफला चूर्ण के फायदे | Benefits of Triphala powder

  1. आंखों के लिए | For the eyes

त्रिफला एक विशेष औषधि है जो हमारी आंखों के लिए बहुत अच्छी होती है। यह ग्लूकोमा और मोतियाबिंद जैसी समस्याओं में मदद करता है, और अगर हमारी दृष्टि कमज़ोर है तो इसे बेहतर भी बना सकता है। त्रिफला का एक विशेष प्रकार होता है जिसे त्रिफला घृत कहते हैं जो हमारी आंखों के लिए सर्वोत्तम औषधियों में से एक है।

  1. त्वचा संबंधी समस्याओं को दूर करें | Eliminate skin problems

त्वचा संबंधी समस्याओं के लिए त्रिफला चूर्ण वास्तव में अच्छा है। यह खुजली, चकत्ते और फुंसियों जैसी चीजों में मदद कर सकता है। यदि आप 6 से 8 ग्राम त्रिफला चूर्ण खाते हैं, तो यह त्वचा की इन समस्याओं को दूर करने में मदद कर सकता है।

  1. मुंह की समस्या | Mouth problem

अपने मुंह को बेहतर महसूस कराने के लिए एक गिलास पानी में एक चम्मच त्रिफला डालें और इसे 2 घंटे तक ऐसे ही रहने दें। फिर, पानी का एक छोटा घूंट लें और इसे थूकने से पहले अपने मुंह में थोड़ी देर के लिए घुमाएं। इससे आपके मुंह में होने वाली किसी भी समस्या में मदद मिलेगी।

  1. कब्ज के लिए | For constipation

एक स्वस्थ और साफ आंत हमारे शरीर को स्वस्थ रखने के लिए महत्वपूर्ण है। अगर हमारा पाचन ठीक से काम नहीं कर रहा है तो यह हमारी आंतों को ब्लॉक कर सकता है। त्रिफला, एक प्रकार की औषधि है, जो हमें लंबे समय तक कब्ज की समस्या भी बना सकती है, जिससे हमारे शरीर में हानिकारक पदार्थ बनने लगते हैं।

त्रिफला आपको नियमित और आसानी से शौच जाने में मदद करता है। यह आपके पेट की मांसपेशियों को भी मजबूत बनाता है। यदि आप अक्सर त्रिफला खाते हैं, तो यह आपको बहुत अधिक गैस, कब्ज और पेट दर्द से बचा सकता है।

  1. शरीर को रोगाणुओं और बीमारी से लड़ने में | To increase immunity

यह आपके शरीर को रोगाणुओं से लड़ने में मजबूत और बेहतर बनाने में मदद करता है। यदि आपका शरीर थका हुआ महसूस कर रहा है या बहुत मजबूत नहीं है, तो आप खुद को अधिक ऊर्जा देने के लिए इसका सेवन कर सकते हैं। लेकिन वास्तव में लाभ देखने के लिए आपको इसे लंबे समय तक नियमित रूप से लेना होगा।

  1. रोगाणुरोधी के रूप में | As antimicrobial

यह कीटाणुओं और जीवाणुओं को मारने में मदद करता है। यह एचआईवी से पीड़ित लोगों में हानिकारक बैक्टीरिया से लड़ सकता है।

  1. दांतों को स्वस्थ रखने के लिए | To keep teeth healthy

त्रिफला एक खास चीज है जो हमारे दांतों को स्वस्थ रहने में मदद करती है। इसमें विशेष शक्तियां हैं जो हमारे दांतों और मसूड़ों की समस्याओं को कम करने में मदद कर सकती हैं। यह हमारे दांतों पर प्लाक जैसी चीज़ों को जमने से रोकने में भी मदद कर सकता है। जब हमारे दांत स्वस्थ रहते हैं तो हमारा पूरा शरीर भी स्वस्थ रहता है।

  1. गठियाको बेहतर बनाने में | As anti arthritis

यह दवा आपके शरीर के लिए एक सुपरहीरो की तरह है। यह “ऑक्सीडेंट” और “सूजन” नामक बुरी चीजों से लड़ने में मदद करता है जो आपके जोड़ों को चोट पहुंचा सकते हैं। ऐसा करने से अगर आपको गठिया है तो आप बेहतर महसूस कर सकते हैं।

  1. रक्तचाप | Blood pressure

यदि आप त्रिफला लेते हैं, तो यह सूजन को कम करने में मदद कर सकता है। सूजन तब होती है जब रक्त वाहिकाएं जिनमें नमक होता है छोटी हो जाती हैं। त्रिफला रक्त प्रवाह को बेहतर बनाता है, जिससे सूजन दूर हो सकती है और आपका रक्तचाप सामान्य रहता है।

  1. गैस्ट्रिक अल्सर | Gastric ulcer

जब पेट बहुत अधिक अम्लीय हो जाता है, तो ऐसा महसूस होने लगता है कि इसमें जलन हो रही है, और इससे गैस्ट्रिक अल्सर नामक घाव हो सकते हैं। त्रिफला में तीन विशेष चीजें होती हैं जिन्हें एंजाइम कहा जाता है जो इसे बेहतर बनाने में मदद करती हैं। त्रिफला जलन को दूर कर सकता है और पेट में सुरक्षात्मक परत को भी मजबूत बना सकता है।

स्वस्थ बालों के लिए त्रिफला के फायदे | Benefits of Triphala for healthy hair

त्रिफला का उपयोग आपके बालों को मजबूत और सुंदर बनाने में मदद कर सकता है। त्रिफला में आपके बालों के लिए बहुत सारी अच्छी चीजें हैं।

त्रिफला अवयवों का एक विशेष मिश्रण है जो वास्तव में हमारे बालों के लिए अच्छा है। इसमें एंटीऑक्सिडेंट्स नामक बहुत सी चीजें होती हैं जो हमारे बालों को प्रदूषण जैसी चीजों से बचाती हैं जो इसे नुकसान पहुंचा सकती हैं। इसमें आंवला नाम की कोई चीज़ भी होती है जो हमारे बालों को जल्दी सफ़ेद होने से रोकने में मदद कर सकती है, और यहाँ तक कि सफ़ेद बालों को फिर से काला भी कर सकती है। त्रिफला में बहेड़ा नाम की भी एक चीज़ होती है जो हमारे बालों की जड़ों को मजबूत बनाती है और हमारे बालों को झड़ने से रोकती है।

त्रिफला नामक यह चीज़ सिर में रक्त के प्रवाह को बेहतर बनाने में मदद करती है, जिससे हमारे बालों को उनकी ज़रूरत के अनुसार अच्छी चीज़ें मिलती हैं। हम अपने बालों को स्वस्थ बनाने के लिए त्रिफला तेल या त्रिफला पेस्ट अपने सिर पर लगा सकते हैं।

वजन घटाने के लिए त्रिफला | Triphala for weight loss

त्रिफला वजन कम करने में भी आपकी मदद कर सकता है। क्या आप जानना चाहते हैं कि वजन घटाने के लिए त्रिफला का सेवन कैसे करें?

त्रिफला एक खास चीज है जो लोगों को वजन कम करने में मदद कर सकती है। एक अध्ययन में, अलग-अलग उम्र के अधिक वजन वाले लोगों के दो समूहों को यह देखने के लिए त्रिफला दिया गया कि क्या इससे उन्हें वजन कम करने में मदद मिलेगी।

कुछ लोगों को 3 महीने तक दिन में दो बार त्रिफला नामक एक विशेष दवा दी गई, जबकि अन्य को नकली दवा दी गई। जिन लोगों ने त्रिफला का सेवन किया उनका वजन कम हुआ, इसलिए ऐसा लगता है कि त्रिफला वजन कम करने में मदद कर सकता है।

त्रिफला चूर्ण के नुकसान | Disadvantages of Triphala powder

यदि आप लंबे समय तक त्रिफला चूर्ण का उपयोग करते हैं, तो यह आमतौर पर सुरक्षित होता है। हालाँकि, कभी-कभी यह समस्याएँ पैदा कर सकता है, खासकर यदि आप पहले से ही स्वस्थ हैं। त्रिफला को अपने आहार में शामिल करने से पहले कुछ बातों पर विचार करना न भूलें। तो, त्रिफला पाउडर के बारे में बुरी बातें क्या हैं?

  • यदि आप पहले से ही कोई दवा ले रहे हैं, तो सुनिश्चित करें कि आप कोई भी नई दवा लेने से पहले किसी आयुर्वेद चिकित्सक से बात कर लें।
  • त्रिफला एक ऐसी चीज़ है जो आपके शरीर से मल को बाहर निकालना आसान बनाने में मदद कर सकती है। लेकिन यदि आप इसका बहुत अधिक सेवन करते हैं, तो इससे आपका मल बहुत ढीला और पानी जैसा हो सकता है। इसलिए इसे थोड़ा सा ही लेना बेहतर है।
  • बच्चों को त्रिफला नहीं देना चाहिए।
  • इस बात का कोई प्रमाण नहीं है कि त्रिफला गर्भवती या स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए सुरक्षित है। गर्भवती महिलाओं के लिए त्रिफला का उपयोग करने से बचना सबसे अच्छा है।

त्रिफला चूर्ण कितना लेना चाहिए | How much Triphala powder should be taken

डॉक्टर ने कहा कि त्रिफला को आप खाने से पहले या खाने के बाद भी ले सकते हैं। आप दिन में एक बार आधा चम्मच त्रिफला चूर्ण का सेवन करें। आप त्रिफला चूर्ण को घी या शहद के साथ मिलाकर दिन में दो बार ले सकते हैं।

आपको त्रिफला दवा की कितनी मात्रा लेनी है यह इस बात पर निर्भर करता है कि आपकी उम्र कितनी है, आप लड़का हैं या लड़की और आपका शरीर कैसा है। अलग-अलग लोगों को अलग-अलग मात्रा की आवश्यकता होती है। आयुर्वेदिक डॉक्टरों का कहना है कि वयस्कों को हर दिन 2 चम्मच से ज्यादा त्रिफला नहीं खाना चाहिए।

यह जानने के लिए कि आपको कितनी त्रिफला दवा लेनी चाहिए, किसी आयुर्वेदिक डॉक्टर से पूछना ज़रूरी है। वे त्रिफला कैप्सूल, सिरप या टैबलेट की सही मात्रा तय करने में आपकी मदद कर सकते हैं।

रात को त्रिफला चूर्ण कैसे लें | How to take Triphala powder at night

रात को सोने से पहले आधा या एक चम्मच त्रिफला चूर्ण लें। पाउडर को अपने मुंह में रखें और फिर थोड़ा गुनगुना पानी पी लें।

निष्कर्ष | Conclusion

यह वास्तव में पुराना पौधा वास्तव में आपके स्वास्थ्य के लिए अच्छा है और विभिन्न बीमारियों में मदद कर सकता है। इसे अक्सर खाना एक अच्छा विचार है ताकि आप बीमार न पड़ें। अगर आपको शौच जाने में परेशानी होती है तो त्रिफला चूर्ण का सेवन करें।

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related

निफ़्टी नए ऑल टाइम हाई पर खुला, सेंसेक्स में तेज़ शुरुआत

भारतीय शेयर बाजार में नई उड़ान का दौर जारी...

जया प्रदा फरार घोषित

बॉलीवुड की मशहूर फिल्म अभिनेत्री और रामपुर की पूर्व...

केंद्रीय कर्मियों को मार्च में मिल सकता है मंहगाई भत्ते का तोहफा

सरकारी कर्मचारियों और पेंशनरों को सरकार आने वाले दिनों...

बाबा रामदेव की पतंजलि के विज्ञापन पर लगी रोक, SC ने फटकार भी लगाईं

बाबा रामदेव वाली कंपनी पतंजलि पर अक्सर कंपनी के...