depo 25 bonus 25 to 5x Daftar SBOBET

भारी सुरक्षा व्यवस्था के बीच मुख्तार अंसारी सुपुर्दे ख़ाक

उत्तर प्रदेशभारी सुरक्षा व्यवस्था के बीच मुख्तार अंसारी सुपुर्दे ख़ाक

Date:

परिवार वालों की मौजूदगी में मुख्तार अंसारी को आज सुबह गाजीपुर के मोहम्मदाबाद स्थिति कालीबाग कब्रिस्तान में सुपुर्द-ए-खाक कर दिया गया, जिला प्रशासन ने सिर्फ परिवार के लोगों को ही मिट्टी देने की इजाजत दी थी. हालाँकि मुख्तार अंसारी के जनाजे में समर्थकों की भारी भीड़ देखने को मिली. लेकिन पुलिस ने परिवार वालों के अलावा किसी को भी कब्रिस्तान के अंदर नहीं जाने दिया। डीएम सहित जिला प्रशासन के सभी आला अधिकारी वहां मौजूद थे और हालात पर कड़ी निगाह रखे हुए थे. पूरा क़स्बा छावनी में तब्दील कर दिया गया था.

इससे पहले जनाज़े को ग़ुस्ल देने और कफ़न पहनाने के बाद घर के बाहर रखा गया ताकि लोग मुख़्तार अंसारी के अंतिम दर्शन कर सकें। इसके बाद भारी पुलिस बंदोबस्त जिसमें पैरा मिलिट्री फाॅर्स के जवान भी शामिल थे जनाज़े को अंतिम यात्रा के लिए रवाना किया गया। इस दौरान वह मुख्तार अंसारी के समर्थकों का बड़ा हुजूम था. इस दौरान मुख्तार के समर्थकों ने वहां पर मौजूद मीडिया कर्मियों को भी दौड़ा लिया जिन्होंने भागकर अपनी जान बचाई , पुलिस से भी झड़प की खबर मिली है।

मुख्तार अंसारी का बड़ा बेटा अब्बास अंसारी अपने पिता के अंतिम दर्शन न कर सका क्योंकि सुप्रीम कोर्ट ने उसकी पेरोल याचिका खारिज कर दी थी. मुख्तार की नमाज़े जनाज़ा घर के बाहर मैदान में पढ़ाई गयी. बता दें मुख्तार अंसारी को पिता स्वतंत्रता सेनानी सुबहानल्ला अंसारी की कब्र के ठीक सामने दफनाया गया है. मुख्तार की मां की कब्र भी ठीक बगल में है और मुख्तार के पूर्वजों की कब्र भी हैं. भारी भीड़ को संयम बरतने के लिए मुख्तार अंसारी के परिवार वालों को बार बार अपील करनी पड़ी. मुख़्तार की कब्र पर मिटटी डालने के लिए समर्थकों का संघर्ष अभी जारी है। कड़े बंदोबस्त के बावजूद लोग आदेशों को मान नहीं रहे हैं। इससे पहले रात डेढ़ बजे के करीब मुख्तार अंसारी का शव भारी सुरक्षा व्यवस्था में मोहम्मदाबाद पहुंचा।

बता दें कि मुख्तार अंसारी की मौत परसों रात दिल का दौरा पड़ने से हुई थी , उसे जेल में ही अटैक आया था और अस्पताल में वो बेहोशी की हालत में पहुंचा था जहाँ उसकी मौत हो गयी थी. शुक्रवार को डॉक्टरों की एक टीम ने मुख्तार के शव का पोस्टमॉर्टम किया और बाद में शव को मुख़्तार अंसारी के बेटे उमर अंसारी को सौंप दिया गया। मुख्तार की संदिग्ध परिस्थियों में हुई मौत के लिए एक जांच कमिटी का गठन कर दिया गया है जो एक महीने के अंदर अपने रिपोर्ट दाखिल करेगी. फिलहाल पोस्टमॉर्टेम रिपोर्ट में मुख़्तार की मौत दिल का दौरा पड़ने से बताई गयी है, हालंकि बिसरा फोरेंसिक जांच के लिए भेजा गया है। बता दें कि मुख्तार का परिवार लगातार आरोप लगा रहा है कि मुख्तार अंसारी की हत्या की गयी है. मुख्तार ने भी अदालत में गुहार लगाईं थी कि जेल में उसे धीमा ज़हर दिया जा रहा है.

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related

आज भी तपेगा उत्तर भारत, चलेंगे लू के थपेड़े

भारतीय मौसम विभाग ने शनिवार 15 जून को दिल्ली,...

EVM पर एलन मस्क का बड़ा बयान, AI से किया जा सकता है हैक

चुनाव में EVM में गड़बड़ी हमेशा एक बड़ा मुद्दा...

चुनाव बाद पहली बार वाराणसी पहुंचे मोदी, बताई लंगड़ा आम की कहानी

तीसरी बार प्रधानमंत्री बनने के बाद नरेंद्र मोदी मंगलवार...

क़ुरबानी के जानवर हाज़िर हों, WC से बाहर होने के बाद हफ़ीज़ का अनोखा सन्देश

पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान मोहम्मद हफीज ने...