depo 25 bonus 25 to 5x Daftar SBOBET

मोदी शाह के इशारे पर हुआ शेयर बाजार के इतिहास का सबसे बड़ा घोटाला, राहुल ने कहा JPC करे जांच

पॉलिटिक्समोदी शाह के इशारे पर हुआ शेयर बाजार के इतिहास का सबसे...

Date:

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने आज कांग्रेस कार्यालय में बुलाई गयी विशेष प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान राहुल गांधी ने चुनाव से पहले मोदी और शाह द्वारा लगातार शेयर खरीदने और शेयर बाजार के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचने पर सवाल उठाए। इस दौरान राहुल गांधी ने शेयर बाजार की पूरी क्रोनोलॉजी बताई। राहुल गांधी ने इसे सबसे बड़ा घोटाला बताया और संसदीय समिति से इसकी जांच कराने की मांग की।

राहुल गांधी ने कहा कि पहली बार बीजेपी नेताओं ने चुनाव से पहले शेयर बाजार को लेकर बयान दिया है। नरेंद्र मोदी और अमित शाह, दोनों यही बयान दोहराते रहे कि शेयर बाजार रिकॉर्ड बनाएगा। वहीं दूसरी तरफ न्यूज चैनल ने गलत एग्जिट पोल जारी कर दिया, जबकि बीजेपी को पता था कि उसे बहुमत नहीं मिल पाएगा। राहुल ने क्रोनोलॉजी समझते हुए कहा कि एग्जिट पोल की वजह से 3 जून को शेयर बाजार बूम कर गया लेकिन 4 जून को यह धराशायी हो गया और रिटेल इन्वेस्टर का लाखों करोड़ रूपये डूब गया।

राहुल गांधी ने कहा कि अमित शाह कहते हैं कि 4 जून से पहले शेयर खरीद लें। मोदी कहते हैं कि 4 जून को स्टॉक खरीद लें। 1 जून को मीडिया गलत एग्जिट पोल जारी कर देता है। बीजेपी के आंतरिक एग्जिट पोल में उसे 220 सीटें मिल रही थीं। आंतरिक एजेंसियों ने सरकार को बताया था कि भाजपा को 220 से 230 सीटें मिलेंगी। शेयर बाजार 3 जून को सारे रिकॉर्ड तोड़ता है और 4 जून को धराशायी हो जाता है। राहुल ने कहा, “इससे पता चलता है कि कोई घोटाला हो रहा है। यहां हजारों करोड़ रुपए निवेश किए गए थे। शेयर बाजार गिरने के बाद 30 लाख करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है। आप जो देख रहे हैं, वह शेयर बाजार के इतिहास का सबसे बड़ा घोटाला है।

प्रेस कांफेरेंस में राहुल गांधी ने मोदी सरकार से सवाल पूछे कि प्रधानमंत्री ने देश के लोगों को निवेश करने की सलाह क्यों दी? गृह मंत्री ने उन्हें शेयर खरीदने का आदेश क्यों दिया? राहुल ने कहा कि दोनों ने अडानी जी के चैनल को इंटरव्यू दिए गए थे जिसकी सेबी कर रहा है. राहुल ने पूछा कि मोदी जी के ये फर्जी निवेशक और विदेशी निवेशक। इनके बीच क्या संबंध है और अगर संबंध है तो इसकी जांच होनी चाहिए।

राहुल गांधी ने कहा कि हम इस पूरे मामले में जेपीसी की मांग करते हैं, हम चाहते हैं कि मामले की जांच हो। इस पूरे मामले में निवेशकों को करोड़ों का नुकसान हुआ है। यह एक आपराधिक कृत्य है।

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related

मंधाना ने दो साल बाद जड़ा शतक

दक्षिण अफ्रीका की महिला टीम इन दिनों टी 20...

महाराष्ट्र में MVA का एलान, विधानसभा चुनाव साथ मिलकर लड़ेंगे

लोकसभा चुनाव के बाद अब बारी तीन राज्यों के...

टी 20 विश्व कप: पार्टी तो अब शुरू होने वाली है

अमित बिश्नोईटी 20 विश्व कप का लीग चरण पूरा...

फरगूसन ने वो कर दिखाया जो टी20 वर्ल्ड कप आज तक नहीं हुआ

न्यूजीलैंड के लॉकी फर्ग्यूसन ने टी20 वर्ल्ड कप में...