depo 25 bonus 25 to 5x Daftar SBOBET

राजस्थान की सियासत: भाजपा में शामिल होने से सचिन पॉयलट का इंकार लेकिन…

फीचर्डराजस्थान की सियासत: भाजपा में शामिल होने से सचिन पॉयलट का इंकार...

Date:


राजस्थान की सियासत: भाजपा में शामिल होने से सचिन पॉयलट का इंकार लेकिन…

नई दिल्ली: राजस्थान का सियासी घमासान हर पल नया मोड़ ले रहा है. तमाम अटकलबाजियों पर विराम लगाते हुए सचिन पाय़लट ने साफ कर दिया कि वह बीजेपी में शामिल नहीं होंगे. बता दें कि सचिन पायलट कल दिल्ली पहुंचे थे. उसी के बात से कहा जा रहा है कि राजस्थान सरकार पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं. सूत्रों ने दावा किया था सचिन पायलट के पास कई विधायकों का समर्थन है और वह बीजेपी नेताओं के संपर्क में हैं. इसके बाद से ही कयासों का दौर तेज हो चला था. जिस पर खुद सचिन पायलट ने विराम लगा दिया है. उन्होंने कहा कि वह बीजेपी में शामिल नहीं होंगे.

कांग्रेस की क़िलेबंदी
उधर कांग्रेस लगातार अपनी किलेबंदी को मजबूत कर रही है. सूत्रों से जो जानकारी मिली है उसके अनुसार इस बैठक में सचिन पायलट शामिल नहीं होंगे. दिल्ली से कांग्रेस के कई बड़े नेता जयपुर पहुंच चुके हैं और विधायकों से संपर्क करने की कोशिश कर रहे हैं.

नाराज़ हैं पायलट
बता दें कि कांग्रेस आलाकमान अशोक गहलोत से नाराज है क्योंकि विधायकों की खरीद-फरोख्त मामले में सचिन पायलट को पूछताछ के लिए नोटिस जारी किया गया है. वहीं सचिन पायलट ने भी संकेत दिए हैं कि वह बीजेपी में नहीं जाएंगे लेकिन अपनी नई पार्टी जरूर बना सकते हैं. सचिन पायलट पूछताछ का नोटिस जारी होने से नाराज हैं.

पायलट तीन बार कर चुके हैं कोशिश
सूत्रों ने बताया कि मार्च से अबतक उनकी यह तीसरी कोशिश है, जब वो पार्टी से अलग होकर, गहलोत की सरकार गिराकर भारतीय जनता पार्टी के बाहरी समर्थन से मुख्यमंत्री बनना चाहते हैं. सूत्रों ने दावा किया है कि पायलट का प्लान पार्टी से अलग होकर बीजेपी से बाहरी समर्थन हासिल कर सरकार बनाने का है और वो इसके लिए लगातार कोशिशें कर रहे हैं. सूत्रों ने कहा है कि पायलट के पास 12 विधायकों का समर्थन हो सकता है. हालांकि पायलट की ओर से दावा किया गया है कि उनके पास करीब 30 विधायकों का समर्थन है.

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related

पाकिस्तान सरकार ने इमरान खान की पार्टी पर प्रतिबंध लगाने का किया फैसला

पाकिस्तान सरकार के सूचना मंत्री अताउल्लाह तरार ने इस्लामाबाद...

Hierank Business School में नए एकेडेमिक वर्ष 2024-25 के लिए एडमिशन शुरू हुए

मेरठ - भविष्य की शिक्षा प्रदान करने में अग्रणी,...

गंभीर को नहीं मिलेगा उनकी पसंद का सपोर्ट स्टाफ

कहा जा रहा था कि टीम इंडिया के नए...

नई ऊंचाइयों पर भारतीय शेयर बाज़ार, सेंसेक्स 81 हज़ार के पार

भारतीय शेयर बाजार ने 18 जुलाई को लगातार चौथे...