Le Roi कंपनी नियमों की धज्जियां उड़ाकर चला रही Floating Hut,पर्यटन विभाग से भी एनओसी नहीं

उत्तराखंडLe Roi कंपनी नियमों की धज्जियां उड़ाकर चला रही Floating Hut,पर्यटन विभाग...

Date:

टिहरी। टिहरी झील स्थित फलोटिंग हट संचालन में नियमों की जमकर धज्जियां उड़ाई जा रही है। फ्लोटिंग हट चलाने वाली कंपनी ली राय पर्यावरण और लोगों के स्वास्थ्य से खुलेआम खिलवाड़ कर रही है। बता दें कि टिहरी झील स्थित फ्लोटिंग हट को पीपीपी मोड के तहत संचालन का जिम्मा ली राय कंपनी को दिया गया था। ली राय कंपनी ने संचालित के शुरूआत से ही नियमों की धज्जियां उड़ाना शुरू कर दिया था।

मामला जब प्रशासन स्तर पर पहुंचा तो इसकी जांच एसडीएम को सौंपी गई। एसडीएम ने जब फ्लोटिंग हट की जांच की तो खामियों का पुलंदा ही सामने निकलकर आ गया। एसडीएम अपूर्वा सिंह की जांच में कंपनी ली राय की लापरवाही का पूरा पर्दाफाश हुआ है। जिसके बाद प्रशासन अब फ्लोटिंग हट का संचालक करने वाली कंपनी ली राय के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की तैयारी में जुट गई है।

Tehri Floating Huts

गत पांच अक्टूबर को सोशल मीडिया पर टिहरी झील स्थित फ्लोटिंग हट का वीडियो वायरल हुआ था। जिसमें फ्लोटिंग हट के शौचालयों और किचन का गंदा पानी टिहरी झील में गिराया जा रहा था। टिहरी झील के साफ पानी में फ्लोटिंग हट के शौचालयों और सीवरों का गंदा पानी मोटर की मदद से मिलाया जा रहा था। मामले की शिकायत डीएम डा. सौरभ गहरवार से की गई। जिसके बाद डीएम ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए इसकी जांच एसडीएम और पर्यटन विभाग को करने के आदेश दिए थे।

आठ अक्टूबर को प्रशासन टीम ने फ्लोटिंग हट का निरीक्षण कर जांच की थी। इस जांच में कई खामिया पाई गई थी। जांच टीम ने रिपोर्ट डीएम को सौंप दी थी। डीएम डा. सौरभ गहरवार ने बताया कि जांच रिपोर्ट फ्लोटिंग हट का संचालन मानको के अनुरूप नहीं हो रहा है। फ्लोटिंग हट का संचालन करने वाली कंपनी नियमों की अनदेखी कर रही है। फ्लोटिंग हट संचालन करने वाली कंपनी ली राय टिहरी झील को प्रदूषित करने का काम कर रही है। उसकी गंदगी को सीधा झील में डाला जा रहा था। इसी के साथ पर्यटन विभाग में फ्लोटिंग हट का रजिस्ट्रेशन भी नहीं था। फ्लोटिंग हट के पर्यटन विभाग के साथ हुए अनुबंध की शर्तों को भी देखा जा रहा है। इस मामले में संचालकों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related