depo 25 bonus 25 to 5x Daftar SBOBET

आखरी चरण का मतदान कल, इन सीटों पर रहेगी नज़र

नेशनलआखरी चरण का मतदान कल, इन सीटों पर रहेगी नज़र

Date:

सात चरणों में होने वाले 2024 के आम चुनाव 1 जून को समाप्त होंगे। उत्तर प्रदेश और पंजाब में 13-13 लोकसभा सीटों, पश्चिम बंगाल में नौ, बिहार में आठ, ओडिशा में छह, हिमाचल प्रदेश में चार, झारखंड में तीन और चंडीगढ़ में एक सीट के लिए मतदान होगा। 57 लोकसभा सीटों पर कुल 904 उम्मीदवार चुनावी मैदान में हैं।

नरेंद्र मोदी (वाराणसी): प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2014 में वाराणसी सीट से लोकसभा में पदार्पण किया था। 2024 में पीएम इस सीट से लगातार तीसरी बार जीत दर्ज करने की उम्मीद कर रहे हैं। पीएम मोदी का मुकाबला कांग्रेस उम्मीदवार अजय राय से है, जिन्हें इंडिया ब्लॉक के हिस्से के रूप में सपा का समर्थन प्राप्त है।

रवि किशन (गोरखपुर): 2019 में लोकप्रिय भोजपुरी अभिनेता रवि किशन ने इस सीट से जीत दर्ज की थी। यह सामान्य श्रेणी का संसदीय क्षेत्र गोरखनाथ मठ के लिए जाना जाता है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 1998 से 2014 के बीच पांच बार इस निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व किया। रवि किशन का मुकाबला इंडिया ब्लॉक की उम्मीदवार काजल निषाद से है, जो एक भोजपुरी अभिनेत्री भी हैं।

रविशंकर प्रसाद (पटना साहिब): पूर्व केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद पटना साहिब से फिर से चुनाव लड़ रहे हैं, जिसे भाजपा का गढ़ माना जाता है। यहाँ उनका मुकाबला मीरा कुमार के बेटे अंशुल अभिजीत से है जो पूर्व लोकसभा अध्यक्ष रह चुकी हैं।

मीसा भारती (पाटलिपुत्र): लालू प्रसाद यादव की बेटी और राजद उम्मीदवार मीसा भारती इस सीट से चुनाव लड़ रही हैं, जहां एनडीए और राजद के बीच अक्सर कड़ी टक्कर देखने को मिलती है। भारती ने फिर से भाजपा के राम कृपाल यादव को चुनौती दी है। 2019 और 2024 के लोकसभा चुनावों में वे उनसे हार गई थीं।

कंगना रनौत (मंडी): भाजपा की ओर से कंगना रनौत मंडी से अपना चुनावी डेब्यू कर रही हैं। चुनाव प्रचार के दौरान, कंगना ने अपने विरोधियों पर कई तरह के हमले किए और कांग्रेस उम्मीदवार विक्रमादित्य सिंह के बारे में कई विवादित बयान दिए।

अभिषेक बनर्जी (डायमंड हार्बर): तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवार अभिषेक बनर्जी पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे भी हैं। टीएमसी के दिग्गज ने 2019 में भाजपा के नीलांजन रॉय के खिलाफ 3.2 लाख से अधिक मतों के अंतर से जीत हासिल की थी। इस चुनाव में, तीसरे कार्यकाल की उनकी आकांक्षा को सीपीआई (एम) के रहमान और भाजपा के अभिजीत दास से चुनौती मिल रही है।

मनीष तिवारी (चंडीगढ़): भाजपा ने दो बार की सांसद किरण खेर को टिकट नहीं दिया और संजय टंडन को कांग्रेस उम्मीदवार और पूर्व केंद्रीय मंत्री मनीष तिवारी के खिलाफ उतारा, जो वर्तमान में आनंदपुर साहिब से लोकसभा का प्रतिनिधित्व करते हैं। कांग्रेस के साथ सीट बंटवारे के तहत आप चंडीगढ़ में मनीष तिवारी का समर्थन कर रही है।

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related

अखिलेश ने भी EVM पर उठाये सवाल, बैलेट पेपर से चुना कराने की मांग

संडे मिडडे में छपी खबर और सोशल प्लेटफॉर्म एक्स...

Amway India ने International Yoga Day मनाया: बेहतर कल के लिए स्वस्थ आदतों को बढ़ावा दिया

लखनऊ: स्वस्थ जीवन शैली को बढ़ावा देने की निरंतर...

आईटी शेयरों में तेज़ी से सेंसेक्स-निफ़्टी में बढ़त से शुरुआत

निफ्टी ने आईटी शेयरों में बढ़त के चलते 21...

टी 20 विश्व कप: पार्टी तो अब शुरू होने वाली है

अमित बिश्नोईटी 20 विश्व कप का लीग चरण पूरा...