depo 25 bonus 25 to 5x Daftar SBOBET

Kanpur Incident: सपा ने कहा- ब्राह्मणों को निशाना बना रही है योगी सरकार

उत्तर प्रदेशKanpur Incident: सपा ने कहा- ब्राह्मणों को निशाना बना रही है योगी...

Date:

कानपूर देहात में कल बुलडोज़र एक्शन के दौरान आग लगने से माँ बेटी की जलकर हुई मौत पर समाजवादी पार्टी ने योगी सरकार को जल्लाद बताते हुए कहा है ये बेरहम और अमानवीय प्रशासन द्वारा की गयी हत्याएं हैं. योगी सरकार लगातार ब्राह्मणो को निशाना बना रही है. ब्राह्मणों के खिलाफ ही चुन चुन कर ऐसी घटनाएं हो रही है. दलितों, पिछड़ों के साथ योगी सरकार में ब्राह्मण भी लगातार अत्याचार बढ़ता जा रहा है. बता दें कि घटना में पीड़ित परिवार ने तहसील प्रशासन पर रंजिश के तहत हत्या करने का आरोप लगाया है.

दोषी अधिकारी कब भेजे जायेंगे जेल

समाजवादी पार्टी ने कहा कि मृतक का बेटा प्रशासनिक अधिकारियों का नाम लेकर उन्हें दोषी ठहरा रहा है। सपा के मीडिया सेल से ट्वीट किया गया कि इस घटना में ब्राह्मण कृष्ण गोपाल दीक्षित की पत्नी प्रमिला व पुत्री नेहा की जलकर मौके पर ही मौत हो गई और कृष्ण गोपाल दीक्षित अधजली अवस्था में हैं. सपा ने सवाल किया है कि दोषी अधिकारियों पर मुकदमा लिख कर कब जेल भेजेंगे?

माँ-बेटी जलती रहीं, प्रशासन खड़ा देखता रहा

बता दें कि कानपुर के थाना रूरा क्षेत्र के गांव मड़ौली में गरीब ब्राह्मण परिवार की झोपड़ी को तोड़ने की बुलडोज़र कार्यवाही के दौरान मां बेटी की संदिग्ध हालात मे जिंदा जलकर मौत हो गई है। हैरानी की बात यह है जिला प्रशासन पुलिस का भारी अमला मूकदर्शक बन खड़े देखते रहे और परिजन चीखते बिलखते रहे। हालाँकि पुलिस कह रही है कि माँ बेटी ने आत्मदाह किया है, लेकिन सवाल उठता है कि अगर उन्होंने अपनी जान ली है तो भी उन्हें रोकने या बचाने की कोशिश क्यों नहीं की गयी जबकि वहां पर पूरा प्रशासन मौजूद था. पीड़ित परिवार का कहना है कि तहसील प्रशासन के लोग एक मंदिर गिराने पहुंचे थे, इसी कार्रवाई में उन्होंने उनकी झोपड़ी को भी आग के हवाले कर दिया. जिसमें मां-बेटी आग की चपेट में आ गए और दोनों की मौत हो गई.

अधिकारीयों व अन्य लोगों पर केस दर्ज

बताया जा रहा है कि इस मामले में SDM, SO पर IPC की धारा 302, 307 व अन्य गंभीर धाराओं में केस दर्ज कर लिया गया है। एसडीएम के निलंबन की तैयारी की जा रही है। कानूनगो और 4 लेखपालों पर भी गंभीर धाराओं में केस दर्ज किया गया है। इसके अलावा 12 से 15 महिला और पुरुष पुलिसकर्मियों पर भी केस दर्ज किया गया है। इसके साथ ही घटना में शामिल गांव के दबंग लोगों, जेसीबी ड्राइवर समेत कई अन्य लोगों पर मुकदमा दर्ज किया गया है।

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related

मोदी जी का बयान, रणनीति या बौखलाहट

अमित बिश्नोईदेश का प्रधानमंत्री जब विपक्षी पार्टी पर ये...

मार्च में भी बायजू कर्मचारियों को आंशिक भुगतान

संकटग्रस्त एडटेक कंपनी बायजू ने कर्मचारियों को मार्च के...

आईपीएल में टूटते रिकार्डों पर उठते सवाल

अमित बिश्नोईआईपीएल 2024 में जिस तरह बल्लेबाज़ी के सारे...

माफिया और भ्रष्टाचारियों का गोदाम बनी हुई है भाजपा, मेरठ में अखिलेश

मेरठ लोकसभा से समाजवादी पार्टी की प्रत्याशी सुनीता वर्मा...