depo 25 bonus 25 to 5x Daftar SBOBET

FIFA World Cup 2022: ऑस्ट्रेलिया के गोल में मदगार बना रेफरी, ट्यूनीशिया को मिली हार

फ़ीफा विश्व कप 2022FIFA World Cup 2022: ऑस्ट्रेलिया के गोल में मदगार बना रेफरी, ट्यूनीशिया...

Date:

फीफा विश्व कप 2022 के ग्रुप डी मैच में ऑस्ट्रेलिया ने ट्यूनीशिया को 0-1 से हराकर अगले राउंड में अपने प्रवेश की उम्मीदें बरकरार रखी हैं. कतर के अल-जनूब स्टेडियम में खेले गए इस मैच में ऑस्ट्रेलिया और ट्यूनीशिया ने शुरू से ही आक्रामक रुख अपनाया। ऑस्ट्रेलिया के लिए निर्णायक गोल मिचेल ड्यूक ने पहले हाफ के 23वें मिनट में किया और यह बढ़त मैच के अंत तक बनी रही।

रेफरी ने गिरा दिया त्युनिशियाई खिलाडी

अल जनौब स्टेडियम में शनिवार के पहले मैच के पहले हाफ में हुए इस गोल में रेफरी डेनियन साइबर्ट ने बड़ी भूमिका निभाई. दरअसल मैच के 23वें मिनट में रेफरी ने गलती से ट्यूनीशिया के खिलाड़ी एलीस सखीरी को गिरा दिया. रेफरी को वहां पर मैच रोक देना चाहिए था मगर उसने मैच को जारी रखा और इसी बीच ऑस्ट्रेलिया को अटैक का मौका मिल गया. ड्यूक उस वक्त सखीरी के ठीक पीछे ही दौड़ रहे थे, उन्होंने उनके गिरने का फायदा उठाया और बिना किसी चैलेंज के ट्यूनीशिया के बॉक्स में पहुंच गए. ड्यूक ने फायदा उठाते हुए हेडर से गोलपोस्ट के बाईं ओर गेंद को नेट में डालकर टीम को बढ़त दिला दी.

ऑस्ट्रेलियाई गोलकीपर के अच्छे बचाव

इस गोल के बाद ट्यूनीशिया ने लगातार कई हमले किए लेकिन अनुभवी गोलकीपर मैट रायन ने कुछ अच्छे बचाव कर आखिरी मिनट तक इस बढ़त को बचाए रखा. ऑस्ट्रेलिया इसके साथ ही 3 पॉइंट्स के साथ फिलहाल अपने ग्रुप में दूसरे स्थान पर पहुंच गया है. ग्रुप डी में, फ्रांस ने एक मैच खेला है और उसके 3 अंक हैं, जबकि डेनमार्क ने अपना मैच ड्रा किया है और उसके पास 1 अंक है। वहीं, इसी ग्रुप में ऑस्ट्रेलिया के 2 मैच के बाद 3 और ट्यूनीशिया के 2 मैच के बाद सिर्फ 1 अंक है।

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related

NDA की सफलता का एग्जिट पोल आ चुका है: पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज बिहार के पाटलिपुत्र में...

Google खरीदेगा फ्लिपकार्ट में हिस्सेदारी

Google ने नवीनतम फंडिंग राउंड में ई-कॉमर्स कंपनी फ्लिपकार्ट...

PK की बेचैनी

अमित बिश्नोईपिछले कुछ हफ़्तों से पूर्व चुनावी रणनीतिकार और...

पीएम मोदी बोले- माँ गंगा ने उन्हें गोद ले लिया है

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2014 में कहा था कि...