depo 25 bonus 25 to 5x Daftar SBOBET

हर कोई टैंक फुल कराने में लगा है

नेशनलहर कोई टैंक फुल कराने में लगा है

Date:

एक शब्द है भेड़ियाधसान। आज पेट्रोल पम्पों पर ये शब्द चारों तरफ बिखरा हुआ दिखाई दे रहा है। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ का ऐसा कोई भी पेट्रोल पम्प नहीं था जहाँ पांच छह सौ या उससे भी ज़्यादा लोगों की भीड़ न लगी हो और ये भीड़ आज सुबह से लगी हुई दिखी, हालत ये कि हर पेट्रोल पंप के पास ट्रैफिक जाम की हालत रही. खबर लिखे जाने तक शहर के काफी पेट्रोल पम्प बंद हो गए थे क्योंकि वहां ईंधन ख़त्म होने का बोर्ड लग गया था, जहाँ पर पेट्रोल डीज़ल है वहां दिन से भी बड़ी भीड़ मौजूद है और सब अपने वहां का टैंक फुल करना चाहते हैं भले ही इसकी उन्हें ज़रुरत न हो।

इस भीड़ को देखते हुए ऐसा लगता है जैसे दुनिया में अंतिम बार पेट्रोल डीज़ल मिल रहा है, इसके बाद दुनिया से ये वस्तु ख़त्म होने वाली है. लखनऊ पेट्रोल डीलर असोसिअशन के अध्यक्ष दयाशंकर सिंह ने बताया कि लखनऊ में ये दिक्कत नै सप्लाई न आने की वजह से हो रही है। उन्होंने बताया कि पेट्रोल पम्पों के पास स्टोरेज की जितनी भी क्षमता थी उस हिसाब से सभी ने तैयारी की थी लेकिन ट्रक चालकों की हड़ताल जारी रहने की वजह से स्टोर किया हुआ ईंधन सारा खप चूका है , शहर के अधिकाँश पेट्रोल पम्पों पर पेट्रोल -डीज़ल ख़त्म हो चूका है और जहाँ पर अभी है , वहां पर काफी भीड़ है।

उन्होंने कहा की हड़ताल का असर उनपर भी पड़ रहा है. सप्लाई कब तक शुरू होगी, इसपर उन्होंने कुछ भी बताने से इंकार किया, उन्होंने कहा कि ये तो हड़ताल पर है, जितनी जल्दी सप्लाई शुरू होगी , पेट्रोल पम्पों पर पेट्रोल मिलना शुरू हो जायेगा। उन्होंने कहा कि अभी जो टैंकर ईंधन लेकर आते हैं वो सुरक्षा के कारण टैंकर लेकर नहीं आ रहे हैं क्योंकि ईंधन से भरे हुए टैंकर हड़ताल के माहौल में लाना सुरक्षित नहीं है। हड़ताल कब ख़त्म होगी के सवाल पर उन्होंने कहा कि ये ट्रक चालकों और सरकार के बीच का मामला है. अगर सरकार उनकी कुछ मांगे मान लेती है तो हड़ताल जल्द ख़त्म हो सकती है।

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related

एक और भाजपा प्रत्याशी का चुनाव लड़ने से इंकार, वजह तो जान लीजिये

भाजपा के साथ इसबार बहुत कुछ अप्रत्याशित हो रहा...

शाहबाज़ शरीफ़ फिर बने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री

शाहबाज़ शरीफ़ को पाकिस्तान के प्रधान मंत्री के रूप...

मौत ने घर देख लिया

अमित बिश्नोई इसका गम नहीं कि घर में पड़ी है...

हिमाचल में राजनीतिक हंगामा, मंत्री विक्रमादित्य का इस्तीफ़ा

राज्यसभा चुनाव में हार मिलने के बाद हिमाचल प्रदेश...