depo 25 bonus 25 to 5x Daftar SBOBET

पेट्रोल/डीजल के दामों वृद्धि का कांग्रेस ने किया विरोध

प्रेस रिलीज़पेट्रोल/डीजल के दामों वृद्धि का कांग्रेस ने किया विरोध

Date:


पेट्रोल/डीजल के दामों वृद्धि का कांग्रेस ने किया विरोध

जिला कांग्रेस कमेटी ने किया मेरठ कमिश्नरी पर प्रदर्शन
पेट्रोल/डीजल के दामों में बढ़ोतरी को वापस लेने की मांग

मेरठ। पेट्रोल/डीजल के दामों में लगातार की जा रही वृद्धि के विरोध में आज जिला कांग्रेस कमेटी ने जोरदार प्रदर्शन किया। अपने वाहनों पर बिकाऊ लिखकर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने पेट्रोल/डीजल के दामों में बढ़ोतरी को वापस लेने की मांग की। कांग्रेस नेताओं का कहना है कि कोरोना ने देश अर्थव्यवस्था को कमजोर बना दिया और लाखों लोगों की आय में कमी हुई है। लेकिन भाजपा सरकार लोगों पर बढ़ती कीमतों का बोझ डालकर उनपर बेरहमी से प्रहार कर रही है।

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के आह्वान पर केन्द्र की मोदी सरकार द्वारा आपदा में अवसर तलाशते हुये पेट्रोल/डीजल के दामो में लगातार की जा रही वृद्धि के विरोध में जिला कांग्रेस कमेटी ने जोरदार प्रदर्शन किया। अध्यक्ष अवनीश काजला के नेतृत्व में पेट्रोल/डीजल के बढ़े दामों को तुरन्त वापस लेने की मांग की। कमिश्नरी पार्क पर एकत्रित होकर सभी कांग्रेस कार्यकर्ता पैदल नारेबाजी करते हुए मवाना बस अड्डे स्थित पेट्रोल पंप पर पहुंचे। अपने वाहनों पर बिकाऊ लिखे पोस्टर लगाकर कार्यकर्ताओं ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए डीजल/पेट्रोल के मूल्य में वृद्धि का विरोध किया।

जिलाध्यक्ष अवनीश काजला ने कहा कि पेट्रोल/डीजल के दामों में बढ़ोतरी कर मोदी सरकार जनता को लूट रही है। पहले ही मोदी सरकार की नाकामी के कारण कोरोना काल मे जनता असहाय हो चुकी हैं, ऊपर से मोदी सरकार द्वारा सौपी जा रही मंहगाई कमर तोड़ रही हैं। इस साल भाजपा सरकार ने पेट्रोल और डीजल की कीमतों में 47 बार बढ़ोतरी की है। पिछले साल के मुकाबले पेट्रोल और डीजल की कीमतों में क्रमशः 26.79 और 25.02 रुपये की वृद्धि हुई है।

कांग्रेस का धरना प्रभारी बनकर आए मनोज त्यागी ने कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए कहा की कांग्रेस पार्टी हमेशा देश के नागरिकों के साथ खड़ी रही है और वह भाजपा सरकार को लोगों पर और प्रहार नहीं करने देगी। कोरोना प्रोटोकाॅल/नियमों का पालन करते हुए, हमारे नेता तेल की कीमतों में अनुचित वृद्धि के खिलाफ पूरे भारत में लगातार विरोध-प्रदर्शन कर रहे हैं।

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related

बुमराह श्रीलंका दौरे पर क्यों नहीं?

अमित बिश्नोईविश्व कप जीतने के बाद कहा गया कि...

बजट में रक्षा मंत्रालय को मिला सबसे ज़्यादा पैसा

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा मंगलवार को संसद में...

बजट 2024: उच्च शिक्षा के लिए 10 लाख रुपये तक का लोन

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मंगलवार को घरेलू संस्थानों...

गोता लगाकर ऊपर आया शेयर बाज़ार

आम बजट पेश होने से एक दिन पहले शेयर...