depo 25 bonus 25 to 5x Daftar SBOBET

डीमैट अकाउंट फ्रीज होने से बचाने के लिए 31 दिसंबर से पहले करें ये काम, जाने तरीका

बिज़नेसडीमैट अकाउंट फ्रीज होने से बचाने के लिए 31 दिसंबर से पहले...

Date:

डीमैट खाते में नॉमिनी का नाम अपडेट करने की आखिरी तारीख 31 दिसंबर है। अगर अब तक डीमैट खाता में नॉमिनी की जानकारी नहीं भरी है तो डीमैट खाता फ्रीज किया जा सकता है। एक बार अकाउंट फ्रीज हो जाने के बाद इससे किसी तरह का लेन देन नहीं कर सकेंगे। यहां डीमैट खाता में नॉमिनी डिटेल्स जुडवाने के बारे में जानकारी दे रहे हैं।

डिमैट खाता में नॉमिनी का नाम जुडवाने की आखिरी तारीख 31 दिसंबर है। अगर अब तक डीमैट अकाउंट में नॉमिनी की पूरी जानकारी अपडेट नहीं की तो दिसंबर के आखिरी तक खाता में नॉमिनी का नाम जोड़ लें। ऐसा न करने पर डीमैट खाता फ्रीज हो सकता है। आज डीमैट अकाउंट से नॉमिनी जोड़ने की प्रक्रिया के बारे में ये पूरी जानकारी है।

डीमैट खाता में नॉमिनी जोड़ने का आखिरी मौका

सिक्योरिटी एक्सचेंज बोर्ड ऑफ इंडिया (SEBI) ने डीमैट खाता में नॉमिनी एड करने के लिए 31 दिसंबर आखिरी तारीख रखी है। मार्केट रेगुलेटरी एजेंसी सेबी ने फिजिकल सिक्योरिटी होल्डर्स को 31 दिसंबर तक PAN, नॉमिनेशन और KYC जानकारी अपडेट करने के लिए निर्देश दिए हैं।

खाता फ्रीज होने के बाद क्या होगा

31 दिसंबर तक डीमैट अकाउंट में नॉमिनी डिटेल्स अपडेट नहीं करने वाले यूजर्स का खाता फ्रीज होगा। हालांकि डीमैट खाता बंद नहीं होगा। लेकिन डीमैट खाता से किसी तरह की लेनदेन नहीं कर सकेंगे।

डीमैट खाता में नॉमिनी कैसे जोड़ें

सबसे पहले डीमैट खाता में लॉगइन करना है। डीमैट अकाउंट में लॉगइन करने के बाद प्रोफाइल सेगमेंट में जाकर ‘माई नॉमिनी’ ऑप्शन पर क्लिक करना है। जहां ‘एड नॉमिनी’ या ‘ऑप्ट-आउट’ विकल्प देखने को मिलेंगे। इनमें से किसी एक विकल्प को चुनना है।
अगले पेज में नॉमिनी की डिटेल्स जानकारी भरनी है। इसके साथ नॉमिनी का वैलिड आईडी प्रूफ अपलोड करना है। अगर एक से अधिक नॉमिनी बनाते हैं तो नॉमिनी शेयर भरना होगा। नॉमिनी डिटेल्स पूरी करने के बाद आधार कार्ड नंबर डालकर OTP सब्मिट करना होगा। इस तरह अपने खाते में आसानी से नॉमिनी जोड़ पाएंगे।

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related

चार साल में पहली बार घटी यूनिकॉर्न की संख्या

पिछले चार साल में पहली बार देश में यूनिकॉर्न...

हाईकोर्ट से निराश केजरीवाल पहुंचे सुप्रीम कोर्ट

अपनी गिरफ़्तारी पर दिल्ली हाईकोर्ट से कोई राहत न...

बाबा रामदेव जी आप इतने नादान नहीं, माफ़ी पर सुप्रीम कोर्ट की टिप्पणी

जस्टिस हिमा कोहली और जस्टिस ए. अमानतुल्लाह की बेंच...