Site icon Buziness Bytes Hindi

Vegetables Prices: टमाटर का भाव 120 रुपए किलो, सब्जियों के दामों ने सरकार की बढ़ाई परेशानी

j28002

Vegetables Prices: टमाटर का भाव 120 रुपए किलों पर पहुंच गया है। सब्जियों के दामों ने सरकार की चिंता बढ़ा दी है।
सब्जियों की कीमत रोकने के लिए सरकार ने तैयारी शुरू कर दी है। माना जा रहा है कि सब्जियों की कीमत में जल्द कमी आएगी।
भीषण गर्मी, कम उत्पादन और बारिश में देरी के कारण टमाटर की बाजार में कीमत 120 रुपए किलो तक पहुंच गई हैं। थोक बाजारों में 70 रुपए किलो है। टमाटर के अलावा अन्य Vegetables के Prices तेजी से बढ़े हैं।

टमाटर की आसमान छूती कीमतों से सरकार हरकत में आई है। उपभोक्ता मामलों के सचिव रोहित कुमार सिंह ने कहा कि टमाटर की कीमतें अस्थाई और मौसमी हैं। जल्द टमाटर की बढ़ी कीमतें नीचे आएंगी। कुछ इलाकों में बारिश से यातायात पर असर पड़ा है। इस कारण से टमाटर की कीमतों में तेजी है।

टमाटर की कीमतों से निपटने के लिए उपभोक्ता मामलों का मंत्रालय टमाटर ग्रैंड चैलेंज शुरू करेगा। इसमें टमाटर के उत्पादन, प्रसंस्करण व भंडारण में सुधार को नए विचार आमंत्रित किए जाएंगे। सचिव ने बताया कि चैलेंज से नए विचारों से प्रोटोटाइप बनाएंगे और फिर आगे बढ़ाएंगे। उन्होंने बताया कि हर साल यही समय ऐसा है जबकि टमाटर बहुत जल्द खराब होता है। इसके बाद बारिश होने से ढुलाई पर असर पड़ता है। आंकड़ों के मुताबिक, 27 जून को अखिल भारतीय स्तर पर टमाटर की औसत कीमत 46 रुपए किलो रही। इसकी अधिकतम कीमत 122 रुपए किलो दर्ज की गई है। टमाटर के साथ अन्य सब्जियों के दाम तेजी से बढ़े हैं।

तमिलनाडु सरकार ने टमाटर के बढ़ते दामों पर लगाम लगाई है। तमिलनाडु में फार्म फ्रेश आउटलेट्स ;एफएफओद्ध पर टमाटर बिक रहा है। एफएफओ में टमाटर 68 रुपए प्रति किलो बिक रहा है। एफएफओ में 60 रुपए किलो पर टमाटर बेचने के लिए कदम उठाए जा रहे हैं। तमिलनाडु सहकारिता, खाद्य और उपभोक्ता संरक्षण मंत्री पेरियाकरुप्पन ने कहा कि गरीब और मध्यम वर्ग को राहत देने के लिए, टमाटर के दाम नियंत्रित करने के लिए सरकार ने कदम उठाया है।

बारिश से आपूर्ति बाधित हुई तो बढ़े दाम

दिल्ली-एनसीआर क्षेत्र में दूध और फल-सब्जियों को बेचने वाली मदर डेयरी स्टोर पर टमाटर कीमत एक सप्ताह में दोगुना करीब 80 रुपए किलो पहुंच चुकी है। बारिश होने से टमाटर की आपूर्ति बाधित हुई तो दाम में उछाल आया है। मानसून आने से टमाटर की फसल मौसमी बदलावों से गुजर रही है। हिमाचल और उत्तराखंड में Rain से टमाटर की फसल खराब हुई है।

व्यापारियों के अनुसार मई में टमाटर का भाव थोक बाजार में 3.5 रुपए किलो और खुदरा बाजार में 10-20 रुपए किलो था। जून में अचानक से कीमत बढ़ गई और अब 100 रुपए के पार है। पिछले सप्ताह से टमाटर का दाम तीन गुना बढ़ी हैं। हरियाणा व यूपी से टमाटर की आपूर्ति कम होने से बंगलूरू से टमाटर मंगाया जा रहा है। बारिश से फसलों को नुकसान हुआ है।

Exit mobile version