Site icon Buziness Bytes Hindi

Chinese spy balloons: अमेरिका में चीनी जासूसी गुब्बारे का आतंक, अब तक 5 जासूसी गुब्बारे मार गिराए

America-China

न्यूयार्क। अमेरिका में चीनी जासूसी गुब्बारे का आतंक छाया हुआ है। हालांकि अमेरिका वायु सेना द्वारा चीनी गुब्बारे को मार गिराया गया है। लेकिन अमेरिकी एयर स्पेस में अब भी चार ऑब्जेक्ट देखे जा चुके हैं। इनको भी अमेरिकी वायु सेना ने मार गिराया है।

अब यूएस नॉर्थ अमेरिकन एयरोस्पेस डिफेंस कमांड और नॉर्दर्न कमांड प्रमुख जनरल ग्लेन वानहर्क ने खुलासा किया है कि अमेरिकी सेना मार गिराई वस्तुएं एलियंस भी हो सकते हैं। यह इस बात पर निर्भर है कि खुफिया विशेषज्ञ अध्ययन किस प्रकार करते हैं। उन्होंने कहा कि इस बारे में पता लगाने की जिम्मेदारी खुफिया विभाग और वैज्ञानिकों की है। अमेरिका की तरफ आने वाले अनजान खतरे की पहचान कर उनकी जानकारी जुटा रहे हैं।

अमेरिकी एयरस्पेस में कैसे पहुंच रहे आब्जेक्ट

अमेरिकी सैन्य कमांडर ने कहा कि अभी तक यह निर्धारित नहीं है कि पिछले दिनों मार गिराए ऑब्जेक्ट अमेरिकी एयरस्पेस में कैसे पहुंचे। उन्होंने कहा कि हम उन्हें चीनी गुब्बारा किसी कारण से भी नहीं कह सकते हैं।

रविवार को दिखा ऑब्जेक्ट

अमेरिकी एयर स्पेस में संदिग्ध चीनी जासूसी गुब्बारा देखे जाने के बाद संदिग्ध ऑब्जेक्ट एक के बाद एक दिखाई दे रहे हैं। बीते रविवार को अमेरिकी सेना ने एक ऑब्जेक्ट को अमेरिका-कनाडा सीमा पर हूरोन झील के ऊपर देखा था। इसके बाद इसको भी मार गिराया गया।

चीनी कंपनियों को किया ब्लैकलिस्ट

अमेरिका ने छह चीन कंपनियों को निर्यात ब्लैकलिस्ट कर दिया है। अमेरिका ने चीन के जासूसी गुब्बारे को मार गिराए जाने के बाद यह कदम उठाया है। अमेरिका वाणिज्य विभाग ने यह जानकारी उपलब्ध कराई है। जिन कंपनियों को अमेरिका ने ब्लैकलिस्ट किया उनका संबंध चीन की पीपल्स लिबरेशन आर्मी से है। अमेरिका का कहना है कि चीनी सेना हाई एल्टीट्यूड बैलून्स का उपयोग खुफिया गतिविधियां के लिए कर रही है।

Exit mobile version