depo 25 bonus 25 to 5x Daftar SBOBET

IT Raid: सपा नेता अबू आजमी के ठिकानों पर छापा, 100 करोड़ की बेनामी संपत्ति जब्त

उत्तर प्रदेशIT Raid: सपा नेता अबू आजमी के ठिकानों पर छापा, 100 करोड़...

Date:

Income Tax Raid: आयकर विभाग ने टैक्स चोरी मामले में कार्रवाई के तहत सपा नेता अबू आजमी के सहयोगी विनायका समूह के वाराणसी में कई ठिकानों पर छापा मारा है। तीन दिनों की छापेमारी और जांच में करीबी बिल्डरों से लेनदन के बैंक स्टेटमेंट और जमीन की खरीद-फरोख्त में लगभग 100 करोड़ रुपए से अधिक की बेनामी संपत्ति मिली है।

बाबतपुर एयरपोर्ट के पास कीमती जमीन, बोगस फर्मे, संबंधियों के नाम फ्लैट

बेनामी संपत्तियों की तलाश में सपा नेता अबू आजमी के ठिकानों पर आयकर विभाग की सर्वे और जांच आज शनिवार को रोकी गई है। आयकर विभाग टीम को बाबतपुर एयरपोर्ट के पास कीमती जमीन, कई बोगस फर्मे, संबंधियों के नाम फ्लैट, जमीनी दस्तावेज हाथ लगे हैं। लखनऊ टीम के सर्वे और जांच में लेनदन के बैंक स्टेटमेंट और जमीन की खरीद-फरोख्त में लगभग 100 करोड़ रुपए से अधिक की बेनामी संपत्ति सामने आई है।

मलदहिया स्थित विनायक प्लाजा और आजमगढ़ के करीबी संबंधियों के नाम आयकर अधिकारियों को जांच के दौरान पता चले हैं। जिनका रियल एस्टेट कारोबार में तगड़ा निवेश है। लखनऊ के अपर निदेशक इनकम टैक्स डीपी सिंह के नेतृत्व में जांच को पहुंची चार टीमें अलग-अलग ठिकानों पर काम किया।

पांच साल में तीसरी बार अबू आजमी के ठिकानों पर छापेमारी

आजमगढ़ के कुछ करीबियों और रिश्तेदारों के नाम बाबतपुर एयरपोर्ट के पास कीमती जमीनें, बोगस फर्में, विनायक प्लाजा में दुकानें, शिवपुर वरूणा गार्डेन में फ्लैट लिए हैं। इसमें सफेदपोश से लेकर रियल एस्टेट कारोबारी तक शामिल हैं। अधिकारियों ने बताया कि पांच साल में तीसरी बार अबू आजमी के ठिकानों पर छापेमारी हुई है। टैक्स चोरी की आशंका पर लखनऊ की टीम ने अबू आजमी के लखनऊ, नोएडा और वाराणसी में एक साथ कई ठिकानों पर छापे मारे हैं।

करीबी बिल्डर साथियों पर आयकर का शिकंजा कस रहा

सपा नेता अबू आजमी के करीबी बिल्डर साथियों पर आयकर का शिकंजा कस रहा है। इनकी सूची आयकर अधिकारियों के हाथ लग गई है। पूरी जानकारी जुटाने के बाद आयकर की टीम गठित कर एक साथ छापा मारा जाएगा। आयकर अधिकारी ने बताया कि अबू आजमी ने मुंबई के बाद पूर्वांचल में रियल एस्टेट का अच्छा कारोबार खड़ा कर लिया है। अबू आजमी के ग्रुप के साथ जुड़कर काम करने वाले बिल्डरों की स्क्रीनिंग हो रही है। कुछ अन्य करीबी हैं, जो सराफा कारोबार में निवेश किए हुए हैं।

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related

मंहगाई की मार: रिटेल इन्फ्लेशन चार महीने के उच्च स्तर पर

भारत की खुदरा मुद्रास्फीति जून में चार महीने के...

अमरीकी राष्ट्रपति जो बिडेन मानसिक परीक्षण करवाने के लिए तैयार

राष्ट्रपति चुनाव के लिए अपनी दावेदारी को समाप्त करने...

ईपीएफओ खाताधारकों के लिए केंद्र का बड़ा एलान, ब्याज दर बढ़ाने को दी मंजूरी

केंद्रीय वित्त मंत्रालय ने गुरुवार को ईपीएफओ खाताधारकों के...