depo 25 bonus 25 to 5x Daftar SBOBET

RBI के एलानों से सेंसेक्स-निफ़्टी धराशायी

फीचर्डRBI के एलानों से सेंसेक्स-निफ़्टी धराशायी

Date:

रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया की MPC बैठक के निर्णय सामने आने के बाद शुरुआती कारोबार में चढ़ते हुए मार्केट ने ऐसा गोता लगाना शुरू किया अंत तक संभल नहीं पाया। बीएसई सेंसेक्स और निफ्टी 50 दोनों ही एक फीसदी से अधिक टूट गए। RBI ने इस आज वित्त वर्ष की आखिरी मौद्रिक नीति पेश की जो मार्केट को बिलकुल पसंद नहीं आयी। पब्लिक सेक्टर के बैंक शेयरों ने बाजार को संभालने की कोशिश भी की लेकिन काम नहीं बना। इंट्रा-डे की बात करें तो सेंसेक्स 1243 अंकों की गिरावट दर्ज हुई. सेंसेक्स एक समय 72450 और निफ्टी 22 हजार के पार चला गया था लेकिन रेपो रेट में बदलाव न करने के RBI के एलान के बाद शेयर बाजार में ऐसी बिकवाली का दबाव आया जिसकी वजह से सेंसेक्स 71250 और निफ्टी 21700 के नीचे तक आ गया।

सेंसेक्स और निफ्टी पर सबसे ज्यादा वेटेज रखने वाले एचडीएफसी बैंक में करीब 2 फीसदी की गिरावट आई। एचडीएफसी बैंक ने बेंचमार्क सूचकांकों पर काफी दबाव डाला. इसके अलावा कुछ अन्य निजी बैंकों के शेयरों में भी काफी दबाव रहा. सेंसेक्स के टॉप 6 लूजर्स में अकेले चार प्राइवेट बैंकों के शेयर हैं. आज के कारोबार में लगभग हर सेक्टर पर दबाव है. निफ्टी पर बैंक, फाइनेंशियल, ऑटो, मेटल, एफएमसीजी, रियल्टी सेक्टर और फार्मा इंडेक्स लाल निशान में बंद हुए। फिलहाल सेंसेक्स में 724 अंकों की गिरावट देखी गई है और यह 71428 के स्तर पर बंद हुआ है। जबकि निफ्टी 213 अंक गिरकर 21718 के स्तर पर बंद हुआ है। आज के टॉप गेनर्स में SBI, TCS, HCLTECH, रिलायंस इंडस्ट्रीज, BHARTIARTL शामिल हैं। जबकि टॉप लूजर्स में ITC, कोटक बैंक, ICICIBANK, एक्सिस बैंक, INDUSINDBK शामिल हैं।

इससे पहले बुधवार को अमेरिकी बाजार बढ़त पर बंद हुए थे। डाउ जोंस इंडस्ट्रियल 156 अंक बढ़कर 38677.36 के स्तर पर बंद हुआ। NASDAQ कंपोजिट में 148 अंकों की बढ़त रही और यह 15756.64 के स्तर पर बंद हुआ। जबकि S&P 500 इंडेक्स करीब 41 अंक बढ़कर 4995.06 के स्तर पर बंद हुआ. अमेरिका की 10 साल की बॉन्ड यील्ड अभी भी 4 फीसदी से ऊपर बनी हुई है.

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related

मौत ने घर देख लिया

अमित बिश्नोई इसका गम नहीं कि घर में पड़ी है...

सेंसेक्स-निफ़्टी में तेज़ी पर कारोबार

कल की बड़ी गिरावट के बाद आज भी भारतीय...