depo 25 bonus 25 to 5x Daftar SBOBET

खुदरा मंहगाई दर में उछाल, IIP में गिरावट

फीचर्डखुदरा मंहगाई दर में उछाल, IIP में गिरावट

Date:

देश में मंहगाई अब कोई मुद्दा नहीं है, किसी को कोई फर्क नहीं पड़ता कि चाहे खुदरा हो या फिर थोक मंहगाई दर, बढ़ती है तो बढ़े, क्या फर्क पड़ता है. फिर भी आंकड़े जब जारी होते हैं तो थोड़ी बहुत बात तो होती ही है, विपक्षी दल अपने बयानों में उसका ज़िक्र भर कर देते हैं. इसी बीच आज सरकार ने खुदरा मंहगाई के आंकड़े जारी कर दिए और उन आंकड़ों के मुताबिक ये मंहगाई दर चार महीने के शिखर पर है. दिसम्बर में रिटेल इन्फ्लेशन 5.69 प्रतिशत पर पहुंच गया, नवंबर में यह 5.55 प्रतिशत था और अगर ईयर टू ईयर देखें तो दिसंबर 2022 में ये 5.72 प्रतिशत था। अब सरकार इसमें कौन से आंकड़े पर बात करना चाहेगी, बेशक ईयर टू ईयर पर, क्योंकि उसमें 0.03 प्रतिशत की कमी दिख रही है, सरकार के हिसाब से तो मंहगाई दर कम हुई है

आगे बढ़ते हैं तो जो आंकड़ों जारी किये गए हैं उनके हिसाब से देश में खुदरा महंगाई दर बढ़ने की वजह खाद्य वस्तुओं की कीमत का उच्चतम स्तर पर होना है। बता दें कि खाद्य वस्तुएं महंगाई दर मापने के लिए उपयोग में आने वाली बास्केट का करीब 50 प्रतिशत हिस्सा होता है। नवंबर में भी महंगाई दर उच्च स्तर पर रहने का बड़ा कारण खाद्य वस्तुओं की कीमतों का अधिक होना है।

महंगाई दर के साथ सरकार द्वारा नवंबर इंडिया इंडेक्स फॉर इंडस्ट्रीयल प्रोडक्शन के आंकड़े भी जारी किए गए हैं। नवंबर में आईआईपी गिरकर 2.4 प्रतिशत रह गया है। एनएसओ की ओर से जारी किए गए डेटा में बताया गया है कि दिसंबर 2023 में फूड बास्केट में खुदरा महंगाई दर 9.53 प्रतिशत रही है। इससे पहले नवंबर में खाद्य वस्तुओं में खुदरा महंगाई दर 8.7 प्रतिशत पर थी। एक वर्ष पहले ये 4.9 प्रतिशत थी। केंद्रीय बैंक की ओर से खुदार महंगाई दर के लिए 2 प्रतिशत से लेकर 6 प्रतिशत की रेंज तय की गई है। दिसंबर की मॉनेटरी पॉलिसी में केंद्रीय बैंक द्वारा वित्त वर्ष 2023-24 के लिए महंगाई दर का लक्ष्य 5.4 प्रतिशत तय किया गया है।

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related

आस पास के पेट्रोल पंप? जानिए बिना किसी परेशानी के

दोस्तों, अगर आप ऐसे स्थान पर हैं जहाँ आप...

विदेशों से पैसा भेजना होगा आसान और सस्ता

डब्लूटीओ में रेमिटेंस पर लगने वाले सीमा शुल्क को...

बाबा रामदेव की पतंजलि के विज्ञापन पर लगी रोक, SC ने फटकार भी लगाईं

बाबा रामदेव वाली कंपनी पतंजलि पर अक्सर कंपनी के...

RBI ने गिनाये 2000 के नोट वापसी के फायदे

केंद्रीय बैंक ने 19 मई, 2023 को 2,000 रुपये...