depo 25 bonus 25 to 5x Daftar SBOBET

Railway Diwali Bonus: रेल कर्मियों को 78 % दीवाली बोनस, केंद्र ने महंगाई भत्ता बढ़ाया

बिज़नेसRailway Diwali Bonus: रेल कर्मियों को 78 % दीवाली बोनस, केंद्र ने...

Date:

Railway Employees Diwali Bonus: रेल कर्मियों की दीवाली इस बार धमाकेदार होगी। रेल कर्मियों का दीवाली का 78 प्रतिशत बोनस दिया गया है। केंद्र सरकार ने महंगाई भत्ता बढ़ाया है। रेलवे ने वित्त वर्ष 2023 में रिकॉर्ड 150.9 करोड़ टन माल और करीब 6.5 अरब यात्रियों की ढुलाई की है। केंद्रीय मंत्री ने अपनी जारी की गई ​विज्ञप्ति में कहा कि रेलवे कर्मचारियों के इस उम्दा प्रदर्शन को देखते हुए केंद्र सरकार ने 11,07,346 रेलवे कर्मचारियों के लिए 1,968.87 करोड़ रुपए के पीएलबी भुगतान को मंजूरी दे दी है। वर्ष 2022-23 में रेलवे का प्रदर्शन काफी अच्छा रहा।

पीएलबी अथवा दीवाली बोनस के लिए पात्र रेलवे कर्मचारी

जो रेल कर्मचारी दीवाली बोनस के हकदार होंगे उन कर्मचारियों में ट्रैक का रखरखाव करने वाले कर्मचारियों के अलावा रेलवे के पायलट, ट्रेन गार्ड गार्ड, स्टेशन मास्टर, सुपरवाइजर, टेक्नीशियन, टेक्नीशियन सहायक, पॉइंट्समैन , मंत्रालय के कर्मचारी एवं ग्रुप सी के अन्य कर्मचारी शामिल हैं। रेलवे सुरक्षा बल और रेलवे सुरक्षा विशेष बल के कर्मचारी योजना के दायरे में नहीं आएंगे। इसके अलावा इस साल के आरंभ में रेलवे कर्मचारियों की यूनियन ने न्यूनतम वेतन में संशोधन मांग की थी। क्योंकि पीएलबी का वितरण छठे वेतन आयोग द्वारा निर्धारित न्यूनतम वेतन के आधार पर किया था। जबकि रेलवे वर्षों पहले सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों को लागू चुका है।

महंगाई भत्ते और महंगाई राहत दोनों के कारण सरकारी खजाने पर कुल सालाना 12,857 करोड़ रुपये का बोझ पड़ेगा। केंद्रीय मंत्रिमंडल ने केंद्र सरकार के कर्मचारियों के लिए महंगाई भत्ते (डीए) और पेंशनभोगियों के लिए महंगाई राहत (डीआर) में 4 प्रतिशत वृद्धि करने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी। सरकार ने कहा है कि ऐसा महंगाई की भरपाई के लिए किया गया है।

मंत्रिमंडल ने भारतीय रेल के सभी पात्र अराजपत्रित कर्मचारियों को 2022-23 के लिए 78 दिनों के वेतन के बराबर उत्पादकता से जुड़े बोनस (पीएलबी) देने के प्रस्ताव को भी मंजूरी दी है। सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने केंद्रीय मंत्रिमंडल बैठक के बाद कहा कि महंगाई भत्ते और महंगाई राहत की अतिरिक्त किस्त 1 जुलाई, 2023 से लागू होगी। सरकार की ओर से प्रेस विज्ञप्ति में कहा है कि यह वृद्धि 7वें केंद्रीय वेतन आयोग की सिफारिशों पर आधारित फॉर्मूले के अनुरूप है।

वित्त मंत्रालय के प्रेस बयान में कहा है कि महंगाई भत्ते और महंगाई राहत दोनों के कारण सरकारी खजाने पर कुल मिलाकर सालाना 12,857 करोड़ रुपए का बोझ पड़ेगा। इस पहल केंद्र सरकार के करीब 48,67,000 कर्मचारियों और 67,95,000 पेंशनभोगियों को लाभ होगा।

फिलहाल 10 करोड़ से अधिक केंद्र सरकार के कर्मचारियों और पेंशनभोगियों को वेतन का 42 फीसदी महंगाई भत्ते के रूप में मिल रहा है। कर्मचारियों और पेंशनभोगियों के लिए महंगाई भत्ता का निर्धारण श्रम ब्यूरो के द्वारा औद्योगिक श्रमिकों के लिए हर महीने जारी ताजा उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (सीपीआई-आईडब्ल्यू) के आधार पर किया जाता है।

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related

हाथरस भगदड़ मामले में एसडीएम, सीओ समेत 6 अधिकारी निलंबित

हाथरस में एक सत्संग में मची भगदड़ में 121...

श्रीलंका का ये तूफानी बल्लेबाज़ बना टीम का कोच

श्रीलंका के तूफानी बल्लेबाज़, पूर्व कप्तान और पूर्व मुख्य...