Site icon Buziness Bytes Hindi

NASA Meteor: अमेरिका में गिरा विशाल उल्कापिंड, NASA कर रही जांच

burning meteorite

टेक्सास। अमेरिका के टेक्सास में एक विशाल उल्कापिंड जमीन पर गिरा। इसको देखकर स्थानीय नागरिक भयभीत हो गए। निवासियों ने तेज प्रकाश के साथ विस्फोट की आवाज सुनने की सूचना दी और अपने घरों को हिलते हुए अनुभव किया। जांच के बाद नासा का मानना है कि आग के गोले में विस्फोट हुआ वह उल्कापिंड था। नासा ने कहा है कि जांच जारी है। निवासियों को मलबे को छूने से मना किया है।

रेस्ट हाउस के पास गिरा

डलास में फॉक्स स्टेशन के मुताबिक नासा ने पुष्टि की है कि उल्कापिंड वातावरण से अलग होकर टेक्सास के पास एक रेस्ट हाउस के पास गिरा। शुरुआती जांच रिपोर्ट के मुताबिक आकाश में जो आग का गोला देखा गया वह दो फीट व्यास का उल्कापिंड था जिसका वजन लगभग 453.50 किलोग्राम था।

एक वीडियो के माध्यम से होम सिक्यूरिटी कैमरे से पक्षियों के घबराकर उड़ने और बूम की आवाज़ के साथ कैप्चर किया। नासा ने बयान में कहा कि उल्कापिंड तेज गति से पृथ्वी के वायुमंडल से टकराते हैं, लेकिन जमीन से टकराने से पहले वे टुकड़ों में टूटकर वायुमंडल से गुजरते हुए धीमे होते हैं।

नासा ने कहा कि उल्कापिंड तेजी से ठंडे होकर टूटते हैं और आम तौर पर खतरनाक नहीं होते हैं, लेकिन बड़े आकार के उल्कापिंड के गिरने से जोखिम हो सकता है। नासा ने एक मानचित्र के साथ घटना की रिपोर्ट पोस्ट की है। इसमें उस क्षेत्र को दिखाया है जहां उल्कापिंड के टुकड़े गिरने की संभावना है।

वायुमंडल के संपर्क में आकर जलते हैं उल्कापिंड

बता दें कि किसी वजह से ऐस्टरॉइड के टूटने पर छोटा सा टुकड़ा अलग हो जाता है जिसे उल्कापिंड कहते हैं। जब उल्कापिंड धरती के करीब पहुंचते हैं तो वायुमंडल के संपर्क में आने के साथ जल उठते हैं और दिखाई देती एक रोशनी जो शूटिंग स्टार यानी टूटते तारे की तरह है लेकिन ये वाकई में तारे नहीं होते।

Exit mobile version