depo 25 bonus 25 to 5x Daftar SBOBET

इजराइल पर फॉस्फोरस बम इस्तेमाल का आरोप

इंटरनेशनलइजराइल पर फॉस्फोरस बम इस्तेमाल का आरोप

Date:

इजराइल और फिलिस्तीनी आतंकवादी संगठन हमास के बीच चल रहा युद्ध में अब खतरनाक हथियारों और बमों का इस्तेमाल किया जा रहा है. हमास ने इजराइल पर सफेद फास्फोरस हथियारों का इस्तेमाल करने का आरोप लगाया गया है, हमास के इस आरोप को लेकर अमेरिका ने भी चिंता जताई है.

इस युद्ध में अब तक हजारों लोगों की जान जा चुकी है. गाजा पट्टी में तो हालात ऐसे हो गए हैं कि अस्पतालों में घायलों को भर्ती करने की जगह नहीं बची है लोगों को खाना तक नहीं मिल रहा है. दूसरी तरफ इजराइल की ओर से जमीन और आसमान दोनों से लगातार हमले किए जा रहे हैं और अब कहा जा रहा है कि इजराइल प्रतिबंधित फॉस्फोरस बम के इस्तेमाल कर रहा है. इस आरोप के बाद अमेरिका का बयान सामने आया है. अमेरिका द्वारा दिए गए फॉस्फोरस हथियारों का इस्तेमाल अक्टूबर महीने में लेबनान में इजराइल के खिलाफ किया गया था.इसे लेकर अमेरिका काफी चिंतित है और उसने कहा है कि हम इस मामले की जानकारी जुटा रहे हैं. अमेरिका कि सफेद फास्फोरस का इस्तेमाल सही मकसद और कानून के तहत ही होना चाहिए .

बता दें फॉस्फोरस मोम जैसा एक खतरनाक रासायनिक हथियार है। इस खतरनाक हथियार को रबर और सफेद फास्फोरस को मिलाकर बनाया जाता है। कहीं पर अगर सफेद फॉस्फोरस बम गिराया जाता है तो वहां आग तेजी से फैलती है। यह हथियार जैसे ही ऑक्सीजन के संपर्क में आता है आग की तेज़ी बढ़ जाती है। यह रासायनिक हथियार आसपास की ऑक्सीजन को पूरी तरह सोख लेता है और पानी डालने से आग नहीं बुझती. फॉस्फोरस बम की मार से अगर कोई व्यक्ति बच भी जाता है तो दम घुटने से उसकी मौत हो जाती है। यह हथियार इंसान की हड्डियों को पूरी तरह से गला देता है. इसकी चपेट में आये व्यक्ति के शरीर के सभी अंग धीरे-धीरे खराब होने लगते हैं।

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related

मेडिकल में एसआईसीयू का फुल फॉर्म क्या होता है?

SICU Full Form In Hindi: दोस्तों, क्या आपने चिकित्सा...

चुनाव से पहले सरकार देगी 17 लाख लोगों को रोजगार, जानिए कैसे

हर साल दो करोड़ रोज़गार का वादा करने वाली...