depo 25 bonus 25 to 5x Daftar SBOBET

FPI Data: भारतीय शेयर बाजार विदेशी निवेशकों की पसंद, अब तक 22,000 करोड़ का किया निवेश

इंटरनेशनलFPI Data: भारतीय शेयर बाजार विदेशी निवेशकों की पसंद, अब तक 22,000...

Date:

FPI Data: FPI inflow विदेशी निवेशकों की ओर से खरीदारी में तेजी आ रही है। एफपीआई फाइनेंशियल और ऑटो शेयरों में निवेश कर रहे हैं। 1 जुलाई 2023 से 7 जुलाई 2023 के बीच विदेशी निवेशकों ने भारतीय शेयर बाजार में 22,000 करोड़ रुपए का निवेश किया है। ऐसा माना जा रहा है कि विदेशी निवेशक जल्द कुछ पैसे निकाल सकते हैं। ऐसे में विदेशी निवेशक का भारतीय बाजार की तरफ रुझान क्यों बढ़ रहा है? इसके मायने जाने की कोशिश करते हैं। विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) ने जुलाई के पहले सप्ताह में 22,000 करोड़ रुपए का निवेश शेयर बाजार में किया है। इसका मतलब ये कि अभी एफपीआई का झुकाव भारतीय शेयर बाजार की ओर है। भारतीय शेयर बाजार को लेकर विदेशी निवेशकों का सकारात्मक रुख है। जानकारों की माने तो अगर यह सिलसिला ऐसे ही जारी रहा तो जुलाई में एफपीआई निवेश मई और जून में दर्ज आंकड़ों से कही ज्यादा अधिक होगा। एफपीआई ने मई 2023 में 43,838 करोड़ रुपए और जून 2023 में 47,148 करोड़ रुपए का निवेश किया।

कोटक सिक्योरिटीज के इक्विटी रिसर्च (रिटेल) प्रमुख श्रीकांत का कहना है कि एफपीआई सतर्कता बनाए रखने को कुछ पैसों की निकासी भी कर सकता है। इसकी वजह अमेरिकी फेडरल रिजर्व द्वारा ब्याज दरों में बढ़ोतरी बताई जा रही है। ऐसा माना है कि जुलाई 2023 में अमेरिकी फेडरल रिजर्व ब्याज दरों में बढ़ोतरी करेगा।

क्या कहते हैंं डिपॉजिटरीज आंकड़े

डिपॉजिटरीज की तरफ से जारी आंकड़ों के अनुसार, 1 जुलाई से 7 जुलाई 2013 के बीच एफपीआई द्वारा 21,944 करोड़ रुपए का निवेश किया है। एफपीआई मार्च 2023 से लगातार भारतीय इक्विटी में खरीद कर बना हुआ है। मई 2023 में एफपीआई ने 43,838 करोड़ रुपए निवेश किया था। जो कि पिछले नौ महीनों में विदेशी निवेशकों द्वारा बाजार में किया गया सबसे अधिक निवेश था।
एफपीआई ने अप्रैल 2023 में 11,631 करोड़ रुपए और मार्च 2023 में 7,936 करोड़ रुपए निवेश किया। जबकि जनवरी -फरवरी 2023 में एफपीआई ने 34,000 करोड़ रुपए निकाले थे।

जानकारों की माने तो विदेशी निवेशकों द्वारा हो रहे निवेश भारत को विश्व में एक मजबूत बाजार के रूप में उभर रहा है। देश के कई हिस्सों में मानसून में सुधार के साथ पहली तिमाही में कॉर्पोरेट इनकम उम्मीद से अच्छी उम्मी है। इस कारण से विदेशी निवेशक भारतीय इक्विटी में निवेश बढ़ा रहे हैं।

इन सेक्टरों में विदेशी निवेशकों का रूझान?

विदेशी निवेशकों की ओर से लगातार ऑटोमोबाइल, फाइनेंशियल, कैपिटल गुड्स और निर्माण के शेयर खरीद रहे हैं। हाल में उन्होंने एफएमसीजी और पावर में भी खरीदारी बढ़ाई है। उधर, आईटी में बिकवाली का दौर अभी जारी है। डेट मार्केट में एफआईआई ने 1,557 करोड़ रुपए निवेश किया है। इस साल अब तक भारतीय इक्विटी में एफपीआई निवेश 98,350 करोड़ रुपए और डेट सेक्टर में 18,230 करोड़ रुपए तक पहुंचा है।

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related

क्या धोनी भी टीम इंडिया में वापसी करेंगे?

ऐसा लगता है कि आईपीएल का प्रदर्शन भारतीय टीम...

ऑनलाइन गेमिंग सेक्टर को जीएसटी से नहीं मिलेगी राहत

ऑनलाइन गेमिंग कंपनियां सितंबर 2022 से कई पूर्वव्यापी कर...