depo 25 bonus 25 to 5x Daftar SBOBET

एग्जिट पोल्स में तो मोदी जी अवतारी पुरुष

आर्टिकल/इंटरव्यूएग्जिट पोल्स में तो मोदी जी अवतारी पुरुष

Date:

अमित बिश्नोई
कल शाम एग्जिट पोल के नतीजे आ गए, इन सभी पोल्स में बिना किसी शक व शुबहे के NDA गठबंधन प्रचंड बहुमत के साथ सरकार बन रही है और मोदी जी लगातार तीसरी बार देश के प्रधानमंत्री बनते नज़र आ रहे हैं. मुख्यधारा के दसों टीवी चैनल ने पहले से बेहतर पोजीशन में भाजपा और NDA को दिखाया है। जिसका मतलब ये हुआ कि मोदी मैजिक फिर काम कर गया. दूसरी तरफ इंडिया गठबंधन अपनी जीत को लेकर पूरी तरह आश्वस्त नज़र आ रहा है. कल दिल्ली में हुई इंडिया गठबंधन की बैठक में सभी दल जमा हुए और उसमें शामिल हर नेता खुश नज़र आया. वहीँ इतना अच्छा एग्जिट पोल आने के बावजूद भाजपा के नेताओं और टीवी पर डिबेट कर रहे प्रवक्ता भी तनाव में दिखे, पता नहीं क्यों? नतीजे 4 जून को आएंगे और वो क्या होंगे ये समय बताएगा फिलहाल हम आज बात सिर्फ कल आये एग्जिट पोल्स को लेकर कर रहे हैं और जो भी आंकलन है वो एग्जिट पोल्स के आंकड़ों से प्रभावित है.

इन तमाम एग्जिट पोल्स से एक बात साफ़ नज़र आती है कि जनता को मोदी जी बातों पर भरोसा है, राहुल गाँधी या इंडिया गठबंधन के नेताओं पर नहीं। जनता को मोदी की गारंटियों पर यकीन है, कांग्रेस पार्टी के पांच न्याय और 25 गारंटियों पर नहीं। जनता को पांच किलो राशन पर भरोसा है, इंडिया गठबंधन के 10 किलो राशन के वादे पर नहीं। किसानों को मोदी सरकार से मिल रहे 6 हज़ार रूपये सालाना पर भरोसा है, कांग्रेस के MSP को कानूनी अधिकार बनाने की गारंटी पर नहीं, उसे कांग्रेस के क़र्ज़ माफ़ी पर यकीन नहीं और न ही क़र्ज़ माफ़ी के लिए आयोग बनाये जाने के वादे पर भरोसा है.

मोदी जी देश की महिलाओं को ये समझाने पर कामयाब हो गए कि कांग्रेस आयी तो उनका मंगल सूत्र छीन लिया जायेगा, गहने छीन लिए जायेंगे, गहनों के प्रति लगाव रखने वाली महिलाओं ने मोदी जी इस बात पर पूरा भरोसा किया। मोदी जी मर्दों को ये समझाने में कामयाब रहे कि उनके घरों को कांग्रेस पार्टी छीन कर मुसलमानों में बाँट देगी, लोगों को मोदी जी की इस बात में दम नज़र आया, ग्रामीण लोगों को मोदी जी ये समझाने में पूरी तरह कामयाब दिखे कि कांग्रेस आयी तो तुम्हारी दो भैंसों में से एक भैंस कांग्रेस पार्टी छीन लेगी और उसे ज़्यादा बच्चे पैदा करने वालों में बाँट देगी, लोगों ने मान लिया कि हाँ ऐसा हो सकता है, जनता ने इस बात पर भी यकीन कर लिया कांग्रेस पार्टी आयी तो शरिया कानून लागू हो जायेगा, इस बात पर भी यकीन कर लिया कि OBC वर्ग का हक़ छीनकर मुसलमानों को दे दिया जायेगा, जनता को मोदी जी की इस बात पर भी यकीन हो गया कि पाकिस्तान इंडिया गठबंधन की जीत की दुआएं मांग रहा है.

वहीँ दूसरी तरफ इंडिया गठबंधन लोगों को भरोसा नहीं दिला पाया कि देश के 70 प्रतिशत पिछड़े लोगों को न्याय मिलेगा, राहुल गाँधी की इस बात पर महिलाओं को यकीन नहीं हुआ कि सरकार बनने पर उसके बैंक अकाउंट में एक लाख रूपये सालाना आएंगे। देश के युवाओं को अग्निवीर योजना में कोई बुराई नज़र नहीं आयी, वो राहुल गाँधी के अग्निवीर के झांसे में नहीं आये, युवाओं को तीस लाख वैकेंसी भरे जाने की बात पर भी यकीन नहीं हुआ जिसका राहुल गाँधी और इंडिया गठबंधन ज़ोर शोर से प्रचार कर रही थी, युवाओं को एक साल पक्की नौकरी और हर महीने खटाखट खटाखट 8500 रूपये बैंक अकाउंट में आने की गारंटी पर भी भरोसा नहीं हुआ. बेरोज़गारी और मंहगाई पर हो हल्ला मचाने वाली जनता ने इसे शायद नियति मानकर जीवन में अपनाने का फैसला कर लिया।

इन एग्जिट पोल्स के नतीजों से कहीं न कहीं लोग ये मानते हुए नज़र आये कि मोदी जी वाकई में अवतारी पुरुष हैं। उन्हें वाकई में परमात्मा ने भेजा है. इस एग्जिट पोल्स के नतीजों ने ये भी साबित किया है कि राहुल गाँधी हों, प्रियंका गाँधी हों, अखिलेश यादव हों या तेजस्वी यादव, इनकी सभाओं में आने वाली बेशुमार भीड़ मात्र तमाशबीन थी वोटर नहीं। इतनी तबाही भरी गर्मी में वो फ़र्ज़ी तौर पर सिर्फ टीवी पर अपनी तस्वीर आ जाने की ख्वाहिश में इन चुनावी सभाओं में आ रहे थे, दरअसल ये इंडिया गठबंधन के नहीं NDA के वोटर थे. ये एग्जिट पोल्स कितने गलत निकलेंगे या कितने सही साबित होंगे, दो दिन बाद सामने आ ही जायेगा। एग्जिट पोल्स का अपना ही इतिहास है, जो बड़ा विवादस्पद रहा है. इस बार के एग्जिट पोल्स पर ही अगर नज़र डालें तो मोदी जी को प्रचंड बहुमत मिल रहा है, सभी इस पर एक राय हैं लेकिन जब आप इन एग्जिट पोल्स का राज्यवार आंकलन करेंगे तो बहुत अंतर नज़र आएगा। कोई महाराष्ट्र में NDA को पहले से भी अच्छा प्रदर्शन करता दिखाई दे रहा है तो कोई वहां पर इंडिया गठबंधन को भारी फायदे में दिखा रहा है, कोई बंगाल में भाजपा को पहले से ज़्यादा सीटें दे रहा है तो कोई वहां पर TMC को पिछली बार से ज़्यादा सीटें दे रहा है, यूपी में कोई NDA 72 सीटें दे रहा तो कोई पुराने प्रदर्शन यानि 62 सीटों पर ही रोक रहा है. आखिर में यही कहना चाहूंगा कि अगर ये एग्जिट पोल वाकई हकीकत में बदलते हैं तो फिर सभी को ये मान लेना चाहिए कि मोदी जी सचमुच में परमात्मा द्वारा भेजे गए अवतारी पुरुष है क्योंकि इतनी विपरीत परिस्थितियों में ऐसा कमाल तो कोई अवतार ही कर सकता है. वैसे नाउ नाउ कितने बाल, थोड़ा ठहरो जजमान, सब तुम्हारे आगे आ जायेंगे। हमें भी 4 जून का इंतज़ार रहेगा, इंतज़ार इस बात का भी रहेगा कि ये एग्जिट पोल सरकारी हैं (जैसा की कांग्रेस पार्टी कह रही है) या फिर जनता की असली राय.

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related

इंग्लैंड ने रोका वेस्टइंडीज का विजय रथ, आठ विकेट से धमाकेदार जीत

आईसीसीटी ट्वेंटी वर्ल्ड कप के सुपर आठ चरण के...

संघ ने भाजपा को बताया अहंकारी

लोकसभा चुनाव में भाजपा का संख्या बल गिरने और...

स्पीकर पद पर अड़ गयी TDP, क्या करेंगे मोदी-शाह

अमित बिश्नोईतमाम राजनीतिक चर्चाओं और अफवाहों के बावजूद नरेंद्र...

मंधाना ने दो साल बाद जड़ा शतक

दक्षिण अफ्रीका की महिला टीम इन दिनों टी 20...