depo 25 bonus 25 to 5x Daftar SBOBET

अशोक लेलैंड ने लॉन्च किए i-Gen6 प्रौद्योगिकी के साथ बॉस LX और LE

प्रेस रिलीज़अशोक लेलैंड ने लॉन्च किए i-Gen6 प्रौद्योगिकी के साथ बॉस LX और...

Date:


अशोक लेलैंड ने लॉन्च किए i-Gen6 प्रौद्योगिकी के साथ बॉस LX और LE

  • मध्यम व्यावसायिक वाहनों की श्रेणी में बॉस लेकर आया है नयी क्रांति

आगरा: हिंदुजा ग्रुप की प्रमुख कंपनी और व्यावसायिक वाहनों की अग्रणी भारतीय कंपनी अशोक लेलैंड ने बॉस LE और LX ट्रक्स आज बाज़ार में दाखिल किए। BS-6 में i-Gen6 BS-6 प्रौद्योगिकी इन दोनों ट्रक्स की विशेषता है। मध्यम कमर्शियल वाहनों (आईसीवी) विभाग में बॉस यह अशोक लेलैंड के प्रमुख ब्रांड्स में से एक है। यह दोनों ट्रक्स 11.1 टन से 14.05 टन जीवीडब्ल्यू मार्केट की जरूरतें पूरी करने में सक्षम हैं। ग्राहकों के लिए इसमें कई अलग-अलग कॉम्बिनेशंस हैं – 14 फ़ीट से 24 फ़ीट तक लोडिंग स्पैन और हाई साइड डेक, फिक्स्ड साइड डेक, ड्राप साइड डेक, कैब चेसिस, कंटेनर और टिपर यह बॉडी के कई विकल्प भी इसमें मिलते हैं। बॉस LE और LX की कीमतें 18 लाख से शुरू होती हैं (एक्स-शोरूम – मुंबई / दिल्ली / चेन्नई)

बॉस प्लेटफार्म के कई उपयोग हैं – पार्सल, कूरियर, पोल्ट्री, घरेलु इस्तेमाल के उत्पाद, कृषि-नाशवान उत्पाद, ई-कॉमर्स, एफएमसीजी, वाहनों के कल-पुर्जें और रीफेर और ऐसे कई कामों के लिए बॉस सही है। ग्राहक इसके दो केबिन विकल्पों में से अपनी पसंद चुन हैं। BS-6 प्रौद्योगिकी के साथ-साथ 7% तक ज्यादा फ्लूइड क्षमता, 5% तक बेहतर टायर लाइफ, 30% तक लंबा सर्विस इंटरवल और 5% तक कम देखभाल खर्च इन सुधारों के लाभ भी ग्राहकों को मिलेंगे। श्रेणी में अग्रणी एर्गोनॉमिक और ड्राइवर के लिए सुरक्षा प्रावधानों के साथ संपूर्णतः बिल्ट विकल्प के साथ बॉस उपलब्ध है। इसके साथ ग्राहकों को आई-अलर्ट, रिमोट डायग्नोस्टिक्स यह सुविधाएं भी मिलती हैं।

अशोक लेलैंड के एमडी और सीईओ श्री. विपिन सोंधी ने बताया, “इस वर्ष की कई चुनौतियों के बावजूद हम हमारी योजनाओं के अनुसार आगे बढ़ रहे हैं। एवीटीआर लॉन्च से शुरू करते हुए डिजिटल एनएक्सटी की डिजिटल सुविधाएं, बड़ा दोस्त और अब बॉस आईसीवी ट्रक्स यह हमारा सफर सफलतापूर्वक चल रहा है। ग्राहकों को सबसे नयी और आधुनिकतम उत्पाद, प्रौद्योगिकी के लाभ प्रदान करना हमारा उद्देश्य है। हमारी बॉस श्रेणी में यह नए ट्रक्स आने से हमारे आईसीवी वाहन मार्केट के सबसे बढ़िया वाहनों में से एक बन गए हैं। आईसीवी वाहनों की मांग बढ़ रही है और पोर्टफोलियो के हमारे सबसे ज्यादा बिक्री के ब्रांड्स में से एक में हमारी सिद्ध हुई i-Gen6 BS-6 प्रौद्योगिकी लाने का यही सही समय है। इन नए ट्रक्स ने हमारे पोर्टफोलियो की मज़बूती और भी बढ़ गयी है और इससे दुनिया के अग्रणी 10 सीवी विनिर्माताओं में स्थान पाने का हमारा लक्ष्य पाने में भी मदद मिलेगी।”

अशोक लेलैंड के सीओओ श्री. अनुज कथूरिया ने कहा, “पिछले आठ सालों में आईसीवी मार्केट में हमारी हिस्सेदारी लगातार बढ़ रही है और बॉस ब्रांड उस प्रगति का नेतृत्व कर रहा है। वित्तीय वर्ष 2012 में 6% मार्केट हिस्सेदारी से आज भारतीय मार्केट हमारी हिस्सेदारी 20% से ज्यादा है। नए बॉस LE और LX में ज्यादा ईंधन बचत क्षमता और टिकाऊपन में हमें कई सुधार किए हैं और आईसीवी ग्राहक इसे खूब पसंद करेंगे। यह दो नए ट्रक्स तेज़ी से बढ़ते हुए विभाग की लंबी दूरी के लिए ज्यादा अपटाइम की मांग पूरी करने में सक्षम हैं। हमें पूरा विश्वास है कि, नए बॉस ट्रक्स अपने i-Gen6 इंजनों के साथ पर्यावरण सुरक्षा में योगदान देंगे और दुनिया के अग्रणी 10 आईसीवी विनिर्माताओं में स्थान पाने का हमारा उद्देश्य भी पूरा करेंगे। “आपकी जीत, हमारी जीत” का आदर्श उदहारण बॉस ब्रांड ग्राहकों को तनाव से मुक्त संचालन और ज्यादा लाभ का वचन देता है।”

बॉस LE और LX के साथ 4 साल / 4 लाख किमी यात्रा तक की वारंटी दी जाती है जो आगे 6 सालों तक बढ़ायी जा सकती है। साथ ही कंपनी 4 घंटों में प्रतिसाद और 48 घंटों में रिस्टोरेशन का वचन दे रही है। इस प्रकार के वाहनों के ज्यादा अपटाइम की जरुरत है यह ध्यान में रखते हुए इसके साथ ‘क्विक एक्सीडेंट रिपेयर’ सेवा दी जाती है और इसके लिए वर्कशॉप्स में खास बे रखा जाता है। बिक्री और बिक्री के बाद सेवाओं के लिए ग्राहकों के लिए 3000 से ज्यादा टच पॉइंट्स हैं, अपटाइम सोल्यूशन सेंटर और सर्विस मंडी नेटवर्क के जरिए 24X7 सेवाएं दी जाती हैं।

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related

NDA सरकार संविधान हत्या दिवस के रूप मनाएगी आपातकाल की याद

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कहा कि 25...

असम पहुंचे राहुल गाँधी, मणिपुर हिंसा के शरणार्थियों से की मुलाकात

लोकसभा में विपक्ष के नेता और रायबरेली से संसद...

खड़गे के बाद चीन को लेकर अब प्रियंका ने मोदी सरकार को घेरा

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे के बाद अब कांग्रेस नेता...

पीएलआई योजना के तहत दूरसंचार उपकरण विनिर्माण की बिक्री 50,000 करोड़ रुपये के पार

संचार मंत्रालय के नवीनतम आंकड़ों के मुताबिक दूरसंचार उपकरण...