UP Labor Welfare Board Council President को मिली धमकी,‘ जांच वापस ले लो वरना परिवार सहित उड़ा दिए जाओगे’

 
UP Labor Welfare Board Council President

मेरठ। योगी सरकार में अपराध मुक्त का नारा भले ही भाजपा और सरकार के मंत्री दे रहे हो। लेकिन उनकी अपनी ही सरकार में भाजपा नेताओं को जान से मारने की धमकी मिल रही है। ताजा मामला उप्र श्रम कल्याण बोर्ड परिषद के अध्यक्ष और मेरठ के रहने वाले पंडित सुनील से जुड़ा है। श्रम कल्याण बोर्ड परिषद अध्यक्ष सुनील भराला को जान से मारने की धमकी मिली है। पंडित सुनील भराला के पास आए फोन में कालर ने कहा कि या तो जांच वापस ले लो वरना परिवार सहित जान से मार दिए जाओगे। इसके बाद से से अध्यक्ष का परिवार दहशत में है। गांव भराला में आवास पर पुलिस सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी है। एसएसपी रोहित सजवाण के निर्देश पर दौराला पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। दौराला क्षेत्र के भराला गांव निवासी उप्र श्रम कल्याण बोर्ड परिषद अध्यक्ष सुनील भराला को जान से मारने की धमकी मिली है। सुनील भराला को यह धमकी उस समय मिली जब वह वृद्धावन के लिए रवाना हो रहे थे। श्रम कल्याण बोर्ड परिषद के अध्यक्ष पंडित सुनील भराला को धमकी देने वाले ने किसी जांच को वापस न लेने पर जान से मारने की धमकी दी है। अध्यक्ष सुनील भराला ने इस संबंध में एसएसपी रोहित सिंह सजवाण को जानकारी दी है।

पंडित सुनील भराला ने बताया कि उनके फोन पर एक फोन आया। जिसमें युवक ने अपना नाम नहीं बताया और फोन काट दिया। इसके बाद दोबारा फोन आया और उस व्यक्ति ने अभद्रता करते हुए जांच वापस न लेने पर उनके परिवार को हत्या करने की धमकी दी। सुनील भराला ने बताया कि उन्होंने टीटी कंपनी द्वारा आवास विकास परिषद गाजियाबाद में नियम विरुद्ध जमीन आवंटन करने की सीएम योगी से शिकायत की थी। जिस पर एक जांच कमेटी मामले की जांच कर रही है। इसी जांच को वापस लेने को उन्हें व उनके परिवार को जान से मारने की धमकी दी गई।