Kanwar Yatra 2022: मेरठ पहुंचे अपर मुख्य सचिव गृह और डीजीपी, कांवड़ यात्रा को लेकर दिए निर्देश

 
Kanwar Yatra 2022

मेरठ। प्रदेश के अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी और डीजीपी देवेंद्र चौहान आज चार्टेड प्लेन से हवाई पट्टी पहुंचे। यहां से वो सीधे कांवड़ मार्ग का निरीक्षण करने के लिए पहुंचे और वहां पर निरीक्षण किया। इसके बाद दोनों ही आलाधिकारी औघड़नाथ मंदिर पहुंचे। जहां पर उन्होंने औघडनाथ मंदिर परिसर में कांवड़ यात्रा की तैयारियों का जायजा लिया। इस दौरान दोनों आलाधिकारी ने बाबा औघडनाथ मंदिर में पूजा—अर्चना की और मंदिर समिति के साथ बातचीत की। दोनों आलाधिकारी कांवड़ मार्ग के निरीक्षण को पहुंचे। जहां तैयारियों को परखा गया। दोनों आलाधिकारियों ने कांवड़ यात्रा को अभूतपूर्व बनाने में सबसे सहयोग की अपेक्षा की। 

कांवड़ यात्रा तैयारियों की समीक्षा के लिए प्रदेश के अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी और डीजीपी देवेंद्र चौहान पहुंचे। इस दौरान आलाधिकारियों ने कांवड़ यात्रा क्षेत्र के मार्ग का निरीक्षण किया। डीजीपी देवेंद्र चौहान ने औघडनाथ मंदिर परिसर में मीडिया से बातचीत की और बताया कि पूरे दो साल बाद कांवड़ यात्रा शुरू हुई ऐसे में शिवभक्तों का हम सभी स्वागत भी करते हैं। कोरोना संक्रमण अभी खत्म नहीं हुआ है इसलिए कोरोना प्रोटोकाल का पालन करते हुए कांवड़ यात्रा में शामिल हो और खुद को और दूसरों के स्वास्थ्य का ध्यान रखा जाए। अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने कहा कि आज औघडनाथ मंदिर कमेटी के साथ मंदिर का निरीक्षण किया गया। मंदिर में बनाए गए कंट्रोल रूम को भी देखा। उन्होंने कहा कि पूरे दो साल बाद कांवड़ यात्रा शुरू हुई है। उन्होंने कहा कि हमारी अपील है कि पूरे कांवड़ यात्रा को सफल बनाने में सभी सहयोग करें। कांवड़ यात्रा पूरे देश में मिसाल होगी।

Read also: Amarnath Yatra 2022: बाबा बर्फानी के भक्तों के उत्साह में नहीं दिखी कमी,लापता 40 में से 32 लोग मिले

अवनीश अवस्थी ने बताया कि इतना कहूंगा कि मुख्यमंत्री का सपना है कि ऐसी व्यवस्था हो कि कांवड़ यात्रा में किसी प्रकार की दिक्कत नहीं हो। हम सबको मुख्यमंत्री के सपने को पूरा करना होगा। उन्होंने कहा कि कांवड़ियों पर इस बार हेलीकाप्टर से पुष्पवर्षा का निर्देश मुख्यमंत्री द्वारा दिया गया है। कानून व्यवस्था को लेकर निर्देश जारी किए हैं। उन्होंने कहा कि सभी कांवड़ियों से अपील है कि वो कांवड यात्रा के दौरान डीजे का उपयोग निर्धारित ध्वनि में करें। उन्होंने कहा कि हम पूरे प्रदेश में कानून व्यवस्था को लागू करने में कटिबद्ध हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हर सप्ताह वीओ के माध्यम से समीक्षा करते हैं। इस दौरान एडीजी, आईजी,मेरठ कमिश्नर, मेरठ एसएसपी  सहित आलाधिकारी उपस्थित रहे।