depo 25 bonus 25 to 5x Daftar SBOBET

रेटिंग के हेरफेर का खुलासा, Republic TV समेत 3 चैनलों के ख‍िलाफ जांच : मुंबई पुलिस

फीचर्डरेटिंग के हेरफेर का खुलासा, Republic TV समेत 3 चैनलों के ख‍िलाफ...

Date:


रेटिंग के हेरफेर का खुलासा, Republic TV समेत 3 चैनलों के ख‍िलाफ जांच : मुंबई पुलिस

मुंबई: मुंबई पुलिस ने कहा है कि टीवी रेटिंग के ‘हेरफेर’ को लेकर रिपब्लिक टीवी सहित तीन चैनलों की जांच की जा रही है. मुंबई के पुलिस कमिश्‍नर परमवीर सिंह ने यह बताया कि इस मामले में दो लोगों को अरेस्‍ट किया गया है. इसमें से एक रेटिंग को आंकने के लिए ‘पीपल मीटर’ लगाने वाली एक एजेंसी का पूर्व कर्मचारी भी है. उन्‍होंने कहा कि रिपब्लिक टीवी चैनल के अधिकारियों, जो न्‍यूज चैनल्‍स में सर्वोच्‍च टेलीविजन रेटिंग प्‍वाइंट्स (TRP) का दावा कर रहे है, को आज या कल समन किया जाएगा.

होगी सख्त कार्रवाई
NDTV की रिपोर्ट के अनुसार पुलिस कमिश्‍नर सिंह ने कहा कि चैनल से जुड़े किसी भी व्‍यक्ति, चाहे वह कितने भी शीर्ष प्रबंधन से जुड़ा और सीनियर हो, से पूछताछ की जाएगी. यदि मामले में उनकी संलिप्‍तता है तो उनसे पूछताछ होगी. यदि किसी अपराध का खुलासा होता है तो अकाउंट को सीज किया जाएगा और अन्‍य कार्रवाई की जाएगी.मुंबई पुलिस के अनुसार, तफ्तीश, न्‍यूज ट्रेंड में जोड़तोड़/हेरफेर और झूठी कहानी किस तरह फैलाई जाती है, इसके विस्‍तृत विश्‍लेषण का हिस्‍सा है.मुंबई पुलिस के प्रमुख ने कहा कि चैनलों के बैंक अकाउंट्स की भी जांच की जाएगी, हम ये भी देख रहे हैं जो फर्जी TRP से विज्ञापन मिले थे वो पैसा अपराध का हिस्सा माना जाएगा या नही.

टीवी चैनल का जवाब
रिपब्लिक टीवी के एडिटर इन चीफ ने इस मामले पर कहा है कि वो मुंबई पुलिस कमिश्नर के ख‍िलाफ कानूनी कार्रवाई करेंगे. उन्होंने आरोप लगाया कि पुलिस कमिश्नर इसलिए गलत आरोप लगा रहे हैं क्योंकि सुशांत सिंह राजपूत केस की जांच को लेकर हमने उनसे सवाल किये थे. एडिटर इन चीफ ने अपने बयान में कहा, उन्हें सार्वजनिक रूप से माफीनामा जारी करना चाहिए या फिर कोर्ट में हमारा सामना करने को तैयार रहें.’

दो लोग गिरफ्तार, 20 लाख रुपये जब्‍त
गौरतलब है कि एजेंसी BARC एजेंसी TRP को मेजर करने का काम करती है. BARC ने ये काम एक हंसा नाम की एजेंसी को दिया है.उन्‍होंने बताया कि फर्जी टीआरपी का एक नया रैकेट पकड़ा गया है. मुम्बई में तकरीबन 2000 बैरोमीटर लगाए गए हैं. उन्‍होंने बताया कि हंसा के कुछ पूर्व कर्मचारियों ने किसी चैनल से पैसा लेकर दर्शक को उस विशेष चैनल को देखे जाने का सौदा किया था. जो व्‍यक्ति पकड़े गए हैं उनके पास से 20 लाख रुपये जब्‍त किए गए हैं, बाकी की तलाश की चल रही है. पुलिस के अनुसार, BARC ने जो अपनी रिपोर्ट सौंपी है उसमे एक विशेष टीवी चैनल का नाम आया है.

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related

रोज़गार सृजन पर सिटी ग्रुप के रिसर्च नोट का भारत ने किया खंडन

केंद्र सरकार ने हाल ही में सिटीग्रुप के उस...

ईपीएफओ खाताधारकों के लिए केंद्र का बड़ा एलान, ब्याज दर बढ़ाने को दी मंजूरी

केंद्रीय वित्त मंत्रालय ने गुरुवार को ईपीएफओ खाताधारकों के...

आबकारी नीति मामले में केजरीवाल को अंतरिम ज़मानत

सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को प्रवर्तन निदेशालय द्वारा दर्ज...