Site icon Buziness Bytes Hindi

ODI में भी जीत से हुई शुरुआत, ऑस्ट्रेलिया पर 5 विकेट से फतह

team india

40 वे ओवर की पांचवीं गेंद पर रविंद्र जडेजा ने स्टार्क की गेंद पर चौका ठोंक कर भारत को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ODI श्रंखला का पहला मैच पांच विकेट से जीत लिया है. मैच की ख़ास बात के एल राहुल के बल्ले से बहुत दिनों बाद निकलने वाला अर्ध शतक रहा. यह KLR का 13 वां और नंबर पांच पर सातवां अर्ध शतक रहा. हालाँकि भारत के पहले तीन विकेट सिर्फ 16 रन पर आउट हो गए थे मगर एक लम्बे अरसे के बाद राहुल ने अपनी उपयोगिता को साबित करते हुए 75 रनों की नाबाद पारी खेलकर टीम को ODI सीरीज़ में एक अच्छी शुरुआत दी.

टीम इंडिया का टॉप आर्डर फिर लड़खड़ाया

शुरू में थोड़ा लड़खड़ाने के बाद राहुल ने अपने पारी को संयम से आगे बढ़ाया और अपने विकेट को बचाते हुए पहले हार्दिक पंड्या के साथ 44 रनों की साझेदारी की और उसके बाद रविंद्र जडेजा के साथ 108 रनों की अविजित साझेदारी कर टीम में अपनी दावेदारी को मज़बूत किया। जडेजा ने हमेशा की तरह अपनी उपयोगिता पहले गेंदबाज़ी और फील्डिंग में और बाद में बल्लेबाज़ी में साबित की. जडेजा ने नाबाद 45 रनों की पारी खेली। ऑस्ट्रेलिया के लिए मिचेल स्टार्क ने काफी धारदार गेंदबाज़ी की और तीन विकेट चटकाकर भारत को झटके दिए मगर दूसरी तरफ से उन्हें कोई ज़्यादा स्पोर्ट नहीं मिल पाया। केएल राहुल के लिए यह पारी कितनी ज़रूरी थी यह मैदान से बाहर निकलते समय उनका भावुक चेहरा बता रहा था। बल्ले के साथ केएल राहुल ने भारत को जीत तक तो पहुंचाया ही लेकिन विकेटों के पीछे उनकी कीपिंग भी शानदार रही।

अच्छी बढ़त के बाद पीछे रह गया था ऑस्ट्रेलिया

ऑस्ट्रेलिया का स्कोर एक समय पांच विकेट पर 159 रन था, इसके बाद शेष पांच बल्लेबाज़ सिर्फ 29 रनों में ही सिमट गए. शमी और सिराज की जोड़ी ने कंगारुओं पर कहर बरपाया और तीन तीन विकेट हासिल किये वहीँ जडेजा ने किफायती गेंदबाज़ी के साथ ही दो विकेट भी निकाले। कप्तान हार्दिक और कुलदीप को भी एक एक विकेट मिला। भारत ने टॉस जीतकर ऑस्ट्रेलिया को पहले बल्लेबाज़ी का निमंत्रण दिया, हालाँकि यह फैसला 25 ओवरों तक तो मंहगा लग रहा था लेकिन उसके बाद सारा दृश्य ही बदल गया. ट्रेविस के जल्दी आउट होने के बाद अपना पहला एकदिवसीय मैच खेल रहे मिचेल मार्श ने स्टीव स्मिथ और मार्नस लाबुशेन के साथ मिलकर स्कोर को 129 तक पहुंचा दिया। मिचेल मार्श बड़े आक्रामक नज़र आ रहे थे, उन्हें जडेजा ने आउट किया लेकिन अपनी 81 रनों की पारी में उन्होंने 10 चौके और पांच छक्के लगाए। इस बीच स्टीव स्मिथ 22 राण बनाकर आउट हुए. मार्नस लाबुशेन भी 10 रन बाद कुलदीप का शिकार बने. एलेक्स कैरी की जगह टीम में शामिल किये गए जॉश इंग्लस ने कुछ अच्छे हाथ दिखाए लेकिन 169 पर उनका विकेट गिरते ही ऑस्ट्रेलिया की पूरी टीम भरभरा कर ढेर हो गयी.

Exit mobile version