PAK vs SL Asia Cup 2022: पाकिस्तान का घमंड तोड़ श्रीलंका ने जीता एशिया कप

 
PAK vs SL Asia Cup 2022

तीन दिन में दूसरी बार दम्भी पाकिस्तान का घमंड तोड़ते हुए श्रीलंका ने छठी बार एशिया कप की ट्रॉफी उठाने में कामयाबी हासिल की, श्रीलंका की जीत के हीरो सही मायनों अनुभवी राजपक्षे रहे जिन्होंने बड़े मुश्किल हालात में एक बेहद शानदार पारी खेलकर श्रीलंका की जीत का प्लेटफोर्म सेट किया और फिर उसके बाद हासुरंगा एकबार फिर पाकिस्तानी बल्लेबाज़ों के लिए काल साबित हुए. श्रीलंका ने पाकिस्तान को 23 रनों के स्पष्ट अंतर से हराया।

लगातार चार बार टॉस जीतने वाले दासुन शनाका इस बार टॉस हार गए, बाबर ने बल्लेबाज़ी के लिए आमंत्रित किया। 58 रनों पर पांच विकेट गिरने के बाद लगा श्रीलंकाई बल्लेबाज़ों को टॉस हारने का सदमा लगा है, श्रीलंका की हालत शायद वैसी ही होने वाली है जैसे अफ़ग़ानिस्तान के खिलाफ पहले मैच में हुई थी मगर इसके बाद राजपक्षे 71 नाबाद और वनिंदू हासुरंगा (36) की पारियों की बदौलत श्रीलंका ने ज़बरदस्त वापसी की और स्कोर को 170 रनों के शानदार मक़ाम तक पहुंचा दिया। पाकिस्तानी गेंदबाज़ी  जो पहले 10 ओवरों unplayable नज़र आ रही थी बाद में पटरी से पूरी तरह उतर गयी, इसका अंदाज़ा इसी बात से लगाया जा सकता है कि श्रीलंका ने अंतिम 11 ओवर में 112 रन बनाये। इस बीच श्रीलंका ने अपने 6 विकेट गँवाए। पाकिस्तान के लिए हारिस रऊफ सबसे कामयाब गेंदबाज़ रहे जिन्होंने 29 रन देकर 3 विकेट हासिल किये। नसीम शाह और हसनैन ने खूब रन लुटाये। 

लक्ष्य का पीछा करने उतरी पाकिस्तान टीम की शुरुआत एकबार फिर भयावह तरीके से हुई. कप्तान बाबर आज़म की नाकामी सिलसिला जारी रहा, बाबर सिर्फ 5 रन बनाकर मदुषन का शिकार बने, अगली ही गेंद पर मदुषन ने फखर ज़मान को भी चलता किया और फिर इसके बाद पाकिस्तान लगातार संघर्ष करता रहा. रिज़वान और इफ्तिखार के बीच ज़रूर 71 रनों की बड़ी साझेदार हुई मगर इस बीच रन रेट का दबाव लगातार बढ़ता गया और इफ्तिखार के आउट होने के बाद बल्लेबाज़ों का आना जाना शुरू हो गया और पूरी टीम अंतिम ओवर की आखरी गेंद पर 147 रन बनाकर आउट हो गयी, रिज़वान ने सबसे ज़्यादा 55 रनों की पारी खेली। पाकिस्तानी बल्लेबाज़ों के लिए हासुरंगा के एकबार फिर काल साबित हुए, उन्होंने एक ही ओवर पाकिस्तान के तीन बड़बोले बल्लेबाज़ों को पवेलियन का रास्ता दिखा दिया वहीँ अपना दूसरा मैच खेल रहे प्रमोद मदुशन ने सबसे ज़्यादा चार विकेट हासिल किये। पूरे एशिया कप में पहले मैच को छोड़कर श्रीलंका की टीम एक चैम्पियन की तरह खेली।