Pakistan vs Hong Kong Asia Cup 2022: पाकिस्तान के आगे हांगकांग हुआ बेदम, भारत और पाक के बीच मुकाबला तय

 
Pakistan vs Hong Kong Asia Cup 2022:

हांगकांग ने भारत के खिलाफ जो प्रभाव छोड़ा था, पाकिस्तान के खिलाफ उसका वह प्रभाव हवा हो गया. हांगकांग की टीम पाकिस्तान के आगे पूरी तरह नतमस्तक नज़र आयी और 155 रनों के विशाल अन्तर से पाकिस्तान को जीत मिली, कह सकते हैं कि अकेले खुशदिल की पारी का हांगकांग के बल्लेबाज़ मुकाबला नहीं कर सके. हांगकांग की पूरी टीम 10.4 ओवरों में मात्र 38 रनों पर ढेर हो गयी, जबकि खुशदिल शाह ने 15 गेंदों पर 35 रन बनाये थे. पाकिस्तान को कल भारत के खिलाफ मैच से पहले इतनी बड़ी जीत ने उसका हौसला ज़रूर बढ़ाया होगा। 

वैसे तो पाकिस्तान शुरू से ही इस मैच में जीत का दावेदार था लेकिन ऐसी जीत के बारे में किसी ने सोचा नहीं था, शायद पाकिस्तान ने भी नहीं तभी तो उन्होंने भारत के खिलाफ उतारी गयी टीम में कोई बदलाव नहीं किया यहाँ तक कि नसीम शाह को मैदान में उतारा जिनको भारत के खिलाफ मैच में क्रैम्प आ गया था और उन्होंने अपना अंतिम ओवर लड़खड़ाते हुए पूरा किया था. टी20 क्रिकेट में रनों के हिसाब से पाकिस्तान की यह सबसे बड़ी जीत भी है.

Read also: Super 4 round से पहले टीम इंडिया को लगा झटका, चोटिल जडेजा एशिया कप से बाहर

पाकिस्तान के लिए उनका नकारात्मक पहलु बाबर आज़म की एक और नाकामी रहा, बाबर आज़म इस मैच में भी सस्ते में आउट हुए, उन्हें रोहित शर्मा को आउट करने वाले एहसान खान ने अपनी ही गेंद पर कैच आउट किया, बाबर सिर्फ 9 रन बना सके. बता दें कि एहसान ने उन्हें 2018 के एशिया कप में भी अपना शिकार बनाया था. बाबर के बाद मोहम्मद रिज़वान और फखर ज़मान ने टीम के लिए एक लम्बी साझेदारी की, दोनों ने मिलकर पाकिस्तान के स्कोर में 116 रन जोड़े। फखर 41 गेंदों में 53 बनाकर आउट हुए, उस समय पाकिस्तान का स्कोर 17वे ओवर में 129 रन था लेकिन इसके बाद रिज़वान और खुशदिल ने पाकिस्तान के लिए 23 गेंदों में 64 रन ठोंक दिए जिसमें अंतिम ओवर में खुशदिल के चार छक्कों की बदौलत पाकिस्तान ने 29 रन जोड़े। 

इतना बड़ा स्कोर बनने के बाद हांगकांग की हार तो लगभग तय हो गयी थी बस देखने वाली बात यह थी कि वह भारत के खिलाफ किये गए अपने प्रदर्शन को दोहरा पाएंगे लेकिन आज तो कहानी ही बिलकुल उलटी नज़र आयी. ऐसा लगा कि हांगकांग के बल्लेबाज़ों को फ्लाइट पकड़ने की जल्दी थी, वह बस मैदान पर आ रहे थे और जा रहे थे. हांगकांग का एक भी बल्लेबाज़ दहाई में नहीं पहुंच सका, उनकी तरफ से सर्वाधिक स्कोर कप्तान नज़ाकत (8 रन) ने बनाया। पाकिस्तान के गेंदबाज़ों में शादाब ने चार, नवाज़ ने तीन, नसीम ने दो और धानी ने एक विकेट हासिल किया। बहरहाल हांगकांग की हार से भारत और पाकिस्तान के क्रिकेट फैंस के आयोजक और प्रसारणकर्ता भी काफी खुश हुए होंगे क्योंकि इन दोनों चिर प्रतिद्वंदियों के बीच होने वाले हर मुकाबले में सबका फायदा होता है. स्टेडियम दर्शकों से खचाखच भरता हैं मतलब टिकटों की फुल बिक्री, मैच के दौरान विज्ञापनों की भरमार।