MG Ranchi ने खेलों में महिलाओं का समर्थन किया, भारतीय फुटबॉल के उभरते हुए सितारे Astam Oraon का सम्मान किया

स्पोर्ट्सMG Ranchi ने खेलों में महिलाओं का समर्थन किया, भारतीय फुटबॉल के...

Date:

यह प्रयास अष्टम और उनके भाई-बहनों के लिए बेहतरीन शिक्षा का मार्ग प्रशस्त करेगा

राँची, 27 अक्टूबर, 2022: एमजी रांची ने भारत की अंडर-17 महिला फुटबॉल टीम की कप्तान अष्टम उरांव का सम्मान किया और एमजी डीलरशिप में एक कार्यक्रम में उनके परिवार को सहयोग प्रदान किया। इस एसोसिएशन का उद्देश्य उनकी और उनके भाई-बहनों की शिक्षा सुनिश्चित करना और उनकी शिक्षा के बाद नौकरी प्रदान करने के साथ भविष्य में सहायता प्रदान करना है। इस कार्यक्रम की अध्यक्षता एमजी राँची के डीलर प्रिंसिपल, श्री पुलक सिंघानिया ने की।

ऐतिहासिक फ़ीफ़ा अंडर-17 महिला विश्व कप में भारतीय टीम की कप्तान अष्टम उरांव झारखंड के गुमला जिले के गोरराटोली गाँव की रहने वाली हैं। वे अपने माता-पिता हीरालाल उरांव और तारा देवी की तीसरी संतान हैं, उनकी चार बहनें और एक भाई है। वे बचपन से ही एक फुटबॉल खिलाड़ी बनने का सपना देखती थी और इस तरह अपने सपने को पूरा करने के लिए अपने सफ़र को जारी रखा। वे अपने गाँव से हज़ारीबाग की सरकारी आवासीय फुटबॉल अकादमी में चुनी जाने वाली पहली बनीं। वहाँ से, अष्टम उरांव अंडर -17 राष्ट्रीय टीम का हिस्सा बन गई क्योंकि उन्होने जमशेदपुर में और उसके बाद विदेश में मलेशिया में दक्षिण एशियाई फुटबॉल महासंघ (एस.ए.एफ.एफ.) के खेल खेले।

श्री पुलक सिंघानिया, डीलर प्रिंसिपल, एमजी राँची ने कहा, “अष्टम उरांव में काफी संभावनायें हैं और वे पहले से ही देश और राज्य के लिए सम्मान प्राप्त कर रही हैं। उनकी उपलब्धियों के बारे में पढ़कर हमें प्रेरणा मिली; हम अपनी ओर से प्रशंसा प्रकट करने और उनके परिवार को उचित शिक्षा प्राप्त करने में सहायता करके हम सम्मानित महसूस कर रहे हैं। हमें अपना सहयोग प्रदान करने और अष्टम की यात्रा का हिस्सा बनने की खुशी है, जो कि युवा प्रतिभा और समाज को सहयोग प्रदान करने के लिए एमजी सेवा पहल के अनुरूप है।”

अपनी शुरुआत के बाद से ही, एमजी मोटर इंडिया ने समाज में परिवर्तन लाने का प्रयास किया है। एमजी सेवा के तहत, यह ब्रांड सभी को, विशेषकर महिलाओं और हमारे समाज के विभिन्न समुदायों के बच्चों को सशक्त बनाने वाले प्रयासों की प्रमुखता करता है। एमजी मोटर ने इससे पहले महिला खिलाड़ियों को उनके लक्ष्यों तक पहुंचने में सहायता प्रदान करने के उद्देश्य से के साथ भागीदारी की है। इनमें पेशेवर गोल्फर त्वेसा मलिक, खेल रत्न और अर्जुन पुरस्कार-प्राप्त खिलाड़ी, दीपा मलिक, 2020 टोक्यो पैरालिंपिक में भारत की पहली रजत पदक विजेता, भावना पटेल, एथलीट रूपल चौधरी, उभरते हुए टेबल टेनिस खिलाड़ी प्रथा पवार और गुजरात के फुटबॉल के फुटबॉल खिलाड़ियों की टीम, पाटन गर्ल्स शामिल हैं। इसके अतिरिक्त एमजी सेवा के अंतर्गत, लखनऊ और भोपाल के डीलर पार्टनर्स ने हॉकी खिलाड़ियों क्रमशः मुमताज खान और खुशबू खान को सहयोग प्रदान किया है।

ब्रिटेन की कार यह कंपनी महिला सशक्तिकरण और बालिका-आधारित समाज और विविधतापूर्ण प्रयासों जैसे ड्राइव हर बैक, वूमेंटरशिप, और अपनी महिला कर्मचारियों के लिए एक विशेष छात्रावास प्रदान करने पर लगातार काम करती रहती है – जिन सभी का उद्देश्य महिलाओं को अपना सर्वश्रेष्ठ रूप प्राप्त करने में सक्षम बनाना है।

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related

FIFA World Cup 2022: फ्रांस ने ऑस्ट्रेलिया को 4-1 से धोया

मौजूदा चैंपियन फ़्रांस ने फ़ुटबॉल विश्व कप 2022 में...

Rewrite history: अमित शाह ने शोधार्थियों से कहा, दोबारा लिखिए भारत का इतिहास

भाजपा सरकार पर इतिहास को तोड़ने मरोड़ने का आरोप...

Amit Shah: समान नागरिक संहिता पर वही होगा को धारा 370 में किया गया

गुजरात विधानसभा चुनाव में प्रचंड जीत का दावा करते...