Asia Cup 2022, India vs Hong Kong: हांगकांग ने पिछले एशिया कप में टीम इंडिया को दी थी कड़ी टक्कर

 
Asia Cup 2022, India vs Hong Kong

एशिया कप 2022 में भारत ने पाकिस्तान को पांच विकेट से हराकर शानदार आगाज़ किया है, टीम इंडिया का अगला मैच क्वालीफायर हांगकांग से कल खेला जायेगा। वैसे तो टीम इंडिया को इस मैच के लिए फेवरिट माना जा रहा है लेकिन पिछले एशिया कप की बात करें तो हॉन्गकॉन्ग की टीम ने भारत को कड़ी टक्कर दी थी. हांगकांग को हराकर भारत के ग्रुप A में टॉप पर रहने की पूरी सम्भावना है. टीम इंडिया के हौसले पाकिस्तान को हराकर वैसे भी बुलंद हैं और हांगकांग के खिलाफ पूरी उम्मीद है कि टीम में कुछ बदलाव देखने को मिलेंगे। 

आइये जानते हैं कि वह बदलाव क्या हो सकते हैं, दरअसल बदलाव की बातें इसलिए हो रही हैं कि टीम के कप्तान रोहित शर्मा का कहना है कि टीम में प्रयोग चलते रहेंगे, अब इन्ही प्रयोगों के चलते हांगकांग के खिलाफ टीम कॉम्बिनेशन क्या हो सकता है. जिस एक चेंज के बारे में सबसे ज़्यादा बात हो रही है वह है ऋषभ पंत के बारे में, इस बात की पूरी सम्भावना है कि दिनेश कार्तिक को इस मैच में रेस्ट दिया जायेगा और पंत विकेट के पीछे नज़र आएंगे. प्रयोग की बात करें तो हो सकता है रोहित शर्मा पंत और दिनेश कार्तिक में रोटेशन प्रणाली को अपना सकते हैं.

जहाँ तक बेंच स्ट्रेंथ की बात है तो पाकिस्तान के खिलाफ पंत के अलावा जो खिलाडी नहीं खेले थे उनमें अश्विन, रवि बिश्नोई और दीपक हुड्डा का नाम है, अगर मान भी लिया जाय कि रोहित शर्मा पूरी बेंच स्ट्रेंग को आज़मायेंगे तो फिर किन लोगों को रेस्ट कराएँगे। मेरे ख्याल से हांगकांग के खिलाफ भारत तीन पेसर्स की जगह तीन स्पिनर्स के साथ जायेगा। हार्दिक या जडेजा में से किसी एक को रेस्ट कराया जा सकता है, हुड्डा को लगता है और इंतज़ार करना होगा क्योंकि कप्तान रोहित शर्मा राहुल और कोहली में किसी को भी नहीं हटा सकते। दोनों ही बल्लेबाज़ ऑफ कलर हैं और दोनों को मैच प्रैक्टिस की बहुत ज़रुरत है.    

Read also: सिकंदर तो बन गए मगर...

गेंदबाज़ी में चहल को आराम देकर अश्विन को आज़माया जा सकता है. रवि बिश्नोई को भी रोहित मौका दे सकते हैं. जहां तक विनिंग कॉम्बिनेशन न तोड़ने की बात है तो हांगकांग के खिलाफ मैच में यह बात अप्लाई नहीं होती, सुपर 4 के मुकाबलों ज़रूर इस फॉर्मूले के साथ चला जा सकता है. रोहित शर्मा इस मैच में एक प्रयोग और कर सकते हैं और वह है के एल राहुल की पोजीशन का. राहुल वापसी के बाद इस पोजीशन पर अभी खुद को सही साबित नहीं कर सके हैं तो हो सकता है हांगकांग के खिलाफ प्रारंभिक जोड़ी में बदलाव दिखे। रोहित के साथ कोहली या सूर्या कुमार कल मैदान पर भारतीय पारी का आग़ाज़ करते हुए नज़र आ सकते हैं.   

विनिंग कॉम्बिनेशन बिगड़ने का रिस्क?

एक तर्क यह भी है कि टीम इंडिया बिना किसी बदलाव के मैदान में उतर सकती है, क्योंकि कोई कप्तान या कोच विनिंग कॉम्बिनेशन से छेड़छाड़ क्यों ही करना चाहेगा. साथ ही खिलाड़ियों को लगातार मौका भी मिलेगा, ताकि वह फॉर्म को बरकरार रख सकें या फिर फॉर्म वापस पा सकें. 

यहां पर भारत के पास नई ओपनिंग जोड़ी आजमाने का भी मौका है. टी-20 में रोहित शर्मा के साथ विराट कोहली भी ओपनिंग पर उतर चुके हैं. विराट कोहली आईपीएल में भी ओपनिंग करते हैं, ऐसे में अगर केएल राहुल सफल नहीं हो रहे हैं तो नया जोखिम लिया जा सकता है. वैसे भी टीम इंडिया इस वक्त अटैकिंग क्रिकेट खेलने में जुटी हुई है, इसलिए रोहित-कोहली के पास मौका होगा कि वह शुरुआत से ही अटैक कर सकें. लेकिन देखना होगा कि टीम मैनेजमेंट कमजोर हॉन्गकॉन्ग के सामने आखिर कितने रिस्क लेता है.