IPL 2022: Hardik Pandya ने धोनी को पीछे छोड़ा

 
hardik pandya ipl 2022

आईपीएल का 15 वां संस्करण कल गुजरात टाइटंस की ऐतिहसिक जीत के साथ समाप्त हुआ, आईपीएल को एक नया चैम्पियन मिला, एक नया चैम्पियन कप्तान मिला, एक ऐसी टीम मिली जो पूरे आईपीएल के दौरान चैम्पियन की तरह ही नज़र आयी, कहीं कोई अनिश्चितता नहीं दिखाई पड़ी.इन सब कारनामों के बीच एक कारनामा और हुआ और यह कारनामा गुजरात टाइटंस के कप्तान हार्दिक पांड्या ने कर दिखाया है, जी हाँ हार्दिक पांचवीं बार आईपीएल चैम्पियन टीम का हिस्सा बने हैं, यह कारनामा धोनी भी नहीं कर जिन्होंने आईपीएल के सारे एडिशन्स में बतौर खिलाड़ी और बतौर कप्तान हिस्सा लिया है. 

वैसे चैम्पियन टीम का हिस्सा बनने में सबसे आगे मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा हैं. जो 6 बार चैम्पियन टीम का हिस्सा बने हैं, पांच बार मुंबई के लिए और एक बाद डेक्कन चार्जर्स के लिए, ऐसे ही पांच-पांच बार कायरन पोलार्ड और अम्बाती रायुडू भी चैम्पियन टीम का हिस्सा बने हैं, पोलार्ड ने जहाँ मुंबई के साथ रहकर यह कारनामा किया वहीँ अम्बाती रायुडू ने तीन बार मुंबई के साथ और दो बार चेन्नई सुपर किंग्स के साथ यह उपलब्धि हासिल की और अब हार्दिक ने पंजा लगाया है. लेकिन हार्दिक पांड्या रोहित शर्मा, पोलार्ड और रायुडू से अलग इसलिए हैं कि हार्दिक पांच बार फाइनल खेले और पाँचों बार टीम चैम्पियन बनी जबकि इन तीनों के साथ ऐसा नहीं है.       

Read also: Gujarat Titans IPL 2022 Champion : गुजरात ने किया कारनामा, पहली ही कोशिश में बना चैम्पियन

हार्दिक पांड्या की बतौर कप्तान भी यह एक शानदार शुरुआत रही, टूर्नामेंट के दौरान ने अपने खेल से अपनी टीम का हौसला बढ़ाया, बल्लेबाज़ी और गेंदबाज़ी दोनों में उन्होंने अपने आईपीएल कैरियर का सबसे बेस्ट टीम को दिया। एक बल्लेबाज़ के तौर पर जहाँ उन्होंने सीजन में 487 रन बनाये वहीँ 8 विकेट चटकाकर एक अच्छे allrounder की छाप छोड़ी, फाइनल मैच में उनकी गेंदबाज़ी ही टीम की जीत का सूत्रधार बनी थी, चार ओवरों में सिर्फ 17 रन देकर तीन निकालना टी 20 क्रिकेट में एक बहुत अच्छी परफॉरमेंस मानी जाएगी, इसी गेंदबाज़ी की वजह से राजस्थान की टीम ज़्यादा स्कोर नहीं बना सकी और लक्ष्य को हासिल करने में गुजरात को कोई ख़ास परेशानी नहीं हुई.