IPL 2022 : गुजरात टाइटंस आईपीएल के फाइनल में

 
Cricket News ipl

आईपीएल 2022 के क्वालीफ़ायर-1 जो कोलकाता में नयी टीम गुजरात और राजस्थान के बीच खेला गया, रोमांचक अंदाज़ में गुजरात की टीम ने जीत कर फाइनल में अपनी पहुँच बना ली. राजस्थान के 189 के लक्ष्य को गुजरात की टीम ने तीन गेंदे शेष रहते पूरा कर लिया। राजस्थान की टीम ने 6 विकेट खोकर 188 रनों का स्कोर बनाया था. 

Also Read : India tour of South Africa : KLR को कप्तानी, उमरान को मौका, रोहित और कोहली को आराम

राजस्थान की गुजरात की शुरुआत भी ख़राब ढंग से हुई. टीम पहला झटका साहा के रूप में लगा तब टीम का खाता भी नहीं खुला था. इसके बाद शुभमन गिल और मैथियु वेड ने टीम को संभाला, गिल 35 रन बनाकर रन आउट हो गए जबकि वेड भी 35 रन ही बनाकर ओबेदे मकोय की गेंद पर बटलर को कैच दे बैठे। इसके बाद कप्तान हार्दिक और डेविड मिलर ने मोर्चा संभाला और टीम को जीत दिलाकर ही लौटे। कप्तान हार्दिक ने 27 गेंदों पर नाबाद 40 और डेविड मिलर ने 38 गेंदों पर नाबाद 68 रनों की धुंआधार इनिंग खेली जिसमें पांच छक्के और तीन चौके शामिल थे. गुजरात को अंतिम ओवर में 16 रन बनाने थे, राजस्थान के लिए गेंद प्रसिद्द कृष्णा के हाथ में जिनकी पहली तीन गेंदों पर गुजरात ने अपना लक्ष्य पूरा कर लिया। 

इससे पहले राजस्थान के लिए जोस बटलर ने एक और शानदार पारी खेली, उनके आलावा संजू सैमसन और देवदत्त पडीक्कल ने उम्दा पारियां खेलकर टीम को एक बड़े स्कोर तक पहुँचाया। राजस्थान की शुरुआत अच्छी नहीं रही, यशस्वी जैस्वाल तीन रन बनाकर सस्ते में आउट हो गए, लेकिन इसके बाद बटलर और सैमसन के बीच 68 रनों की साझेदारी हुई. 79 के स्कोर  सैमसन 26 गेंदों पर 47 रन बनाकर आउट हो गए.

कप्तान संजू सैमसन के बात बटलर का साथ देने केलिए देवदत्त पडीक्कल मैदान पर उतरे और दोनों के बीच 37 रन की पार्टनरशिप हुई, पडीक्कल 116 के स्कोर पर 28 रन बनाकर पवेलियन लौटे लेकिन बटलर के बल्ले से रन लगातार निकलते रहे, बटलर 56 गेंदों पर 89 की पारी खेलकर रन आउट हुए. राजस्थान के लिए बाद में आये बल्लेबाज़ तेज़ी रन नहीं बना सके वरना स्कोर 200 रनों के पार भी पहुँच सकता था. 

Also Read : IPL 2022 : दिल्ली का सपना टूटा, RCB प्ले ऑफ में

गुजरात के लिए रशीद खान को छोड़कर कोई भी गेंदबाज़ बेहतर गेंदबाज़ी नहीं कर सका, राशिद ने होने चार में भले ही विकेट कोई हासिल नहीं किया लेकिन रन सिर्फ 15 ही खर्च किये।  राजस्थान को अभी फाइनल में क्वालीफाई करने का एक मौका और मिलेगा। लखनऊ और बंगलुरु के बीच होने वाले मैच की विजेता टीम से उसको भिड़ना होगा.