आक्रामक रवैये से कभी कभी असफलता भी मिलती है: रोहित शर्मा

 
rohit sharama

पिछले टी-20 विश्व कप में भारत की टीम सेमीफइनल में नहीं पहुँच सकी थी, उसे लीग मैच में अपने चिर प्रतिद्वंदी पाकिस्तान के हाथों करारी शिकस्त हासिल हुई थी, यह किसी भी विश्व कप मुकाबले में पाकिस्तान की भारत पर पहली जीत थी. पाकिस्तान से मिली इस हार के बाद कप्तान विराट कोहली को ज़बरदस्त आलोचना का शिकार होना पड़ा था. अब जबकि ऑस्ट्रेलिया में इसी साल अक्टूबर में एकबार फिर टी20 विश्व कप होना है, पिछले विश्व कप में भारत के प्रदर्शन और अप्प्रोच की बातें होने लगी हैं. 

बता दें कि टीम इंडिया अपने आक्रामक क्रिकेट के लिए जानी जाती है, टीम के इसी आक्रामक रवैये के बारे में बात करते हुए मौजूदा कप्तान रोहित शर्मा का एक बयान सुर्खियां बटोर रहा है. रोहित शर्मा का कहना है कि टीम इंडिया ने जो आक्रामक रवैया अपनाया है उससे कभी-कभी असफलता भी मिलेगी. रोहित शर्मा ने इस बात से इनकार किया कि यूएई में हुए टी20 विश्व कप में टीम इंडिया ने आक्रामक रवैया छोड़ दिया था. रोहित ने कहा कि इस बात में कोई सच्चाई नहीं है कि यूएई विश्व कप में टीम इंडिया पुरानी सोच के साथ उतरी थी, कप्तान ने कहा कि हमने यूएई में अच्छी क्रिकेट खेली, एक दो मैच हारने कभी कभी बहुत कुछ बदल जाता है लेकिन इसका मतलब यह नहीं कि आगे मिले हुए मौकों का फायदा नहीं उठाया। 

Read also: PAK vs SL: दूसरे टेस्ट में श्रीलंका ने पाकिस्तान को धूल चटाई

कप्तान रोहित शर्मा ने कहा कि खुलकर खेलने में गलतियों की थोड़ी गुंजाइश होती है लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि हम कुछ नया करने की कोशिश कर रहे हैं. कप्तान ने कहा कि समय के साथ परिवर्तन होता है और हम इस दौर से गुज़र रहे हैं. रोहित ने बाहर बैठे हुए लोगों को सलाह दी कि उन्हें अपनी सोच बदलने की जरूरत है. रोहित ने अपनी कप्तानी में टीम के प्रदर्शन पर कहा कि उनकी कप्तानी में टीम पहले की तरह ही खेल रही बस खिलाड़ियों को अपना नेचुरल खेल खेलने की खुली छूट मिली है.