Thursday, October 21, 2021
Homeस्पोर्ट्सहसारंगा और चमीरा की प्रतिभा हमारे काम आएगी : कोहली

हसारंगा और चमीरा की प्रतिभा हमारे काम आएगी : कोहली

नई दिल्ली, 18 सितम्बर (आईएएनएस)। रॉयल चेलेंजर्स बेंगलोर (आरसीबी) के कप्तान विराट कोहली ने कहा है कि वनिंदु हसारंगा और दुश्मंता चमीरा की प्रतिभा यूएई के वातावरण में टीम के काम आएगी।

उन्होंने यह भी कहा कि हसरंगा और चमीरा ऐसे खिलाड़ी हैं जो इन परिस्थितियों को जानते हैं।

कोहली ने टीम की ब्लू जर्सी के वर्चुअल अनावरण के मौके पर कहा, हमने बदलाव किए हैं। हमें कुछ रिप्लेसमेंट मिले हैं। केन रिचर्डसन और एडम जम्पा पहले चरण में हमारे साथ थे और टीम का एक अभिन्न हिस्सा हैं। उन्होंने पूरी तरह से समझने योग्य कारणों से दूसरे चरण का हिस्सा नहीं बनने का फैसला किया। उन लोगों के बदले हमें दो खिलाड़ी मिले हैं जो इन परिस्थितियों को जानते हैं। हसरंगा और चमीरा दो ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्होंने श्रीलंका में इतना क्रिकेट खेला है और वे समझते हैं कि इस तरह की पिचों पर कैसे खेलना है।

उन्होंने कहा, उनका कौशल निश्चित रूप से हमारे लिए बहुत बड़ी मदद होगी। दुबई में खेलना, यह समझना कि गर्म और उमस भरे हालात कैसे हो सकते हैं और पिचें कैसी होंगी। ऐसा महसूस होता है कि आने वाले लोग संस्कृति में, सेटअप में और टीम की योजनाओं में बहुत अच्छी तरह से मिश्रण कर रहे हैं। हम मजबूत महसूस करते हैं। इसने हमें कुछ छोटे आयाम दिए हैं जिन्हें टीम में जोड़ा जा सकता है।

आरसीबी इस समय अंक तालिका में 10 अंकों के साथ तीसरे स्थान पर है, जिसमें उसने अपने सात मैचों में से पांच में जीत हासिल की है और दो में उसे हार का सामना करना पड़ा है।

कोहली ने कहा कि टीम अप्रैल और मई में दिखाए गए जुनून और प्रतिबद्धता के साथ दूसरे चरण की शुरूआत करेगी।

कोहली ने कहा, इस स्तर पर इतने लंबे समय तक इस खेल को खेलने के बाद, आप समझते हैं कि चाहे आप लगातार सात मैच जीतें हों, फिर भी आपको उसी तरह के जुनून और प्रतिबद्धता के साथ शुरूआत करनी होगी। आपको वहां जाने और परिणाम बदलने के लिए अपने अंदर प्रेरणा और उस जुनून को खोजना होगा। इसलिए, आप किसी भी चीज को हल्के में लेने का जोखिम नहीं उठा सकते।

कप्तान ने कहा, आपको हार से निराश नहीं होना चाहिए और निश्चित रूप से जीत को हल्के में नहीं लेना चाहिए। हमने कभी नहीं देखा, ओह, कितनी जीत बाकी है? क्वालीफाई करने के लिए हमें कितने की आवश्यकता है? हमने बस उस पर बिल्कुल ध्यान नहीं दिया।

–आईएएनएस

एसकेबी

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

लेटेस्ट न्यूज़

ट्रेंडिंग न्यूज़