Maharastra Politics Live:सरकारी बांग्ला छोड़ उद्धव मातोश्री हुए शिफ्ट

इससे पहले शाम साढ़े पांच बजे फेसबुक पर लाइव आकर उद्धव ठाकरे ने जनता को सम्बोधित किया। उनके सम्बोधन में उनका निशाना शिंदे रहे, उद्धव ने कहा कि मुझे मुख्यमंत्री नहीं देखना था तो एकबार मुझसे कहा होता , या कोई भी विधायक आकर मुझसे बात करे और इस्तीफ़ा देने को कहे तो मैं फ़ौरन इस्तीफ़ा दे दूंगा 
 
matoshree

महाराष्ट्र की सियासत में पिछले दो दिनों से उठापटक मची हुई, पल पल घटनाक्रम बदल रहा है. आज शाम को MVA सरकार के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने फेसबुक लाइव किया लेकिन इस्तीफे की घोषणा न करके सिर्फ पेशकश की , बाद में अपना सरकारी बंगले वर्षा का तयाग कर अपने पुराने निवास मातोश्री शिफ्ट हो गए. जिस समय वह अपने परिवार के साथ मातोश्री शिफ्ट हो रहे थे, रोते बिलखते नारे लगाते लोग सड़कों पर नारे लगा रहे थे. 

Read Also : Maharashtra Political Crisis Updates: महाराष्ट्र में पल पल बदलती सियासत, भाजपा ने कहा-सरकार बनाने का दावा नहीं पेश करेंगे

इससे पहले शाम साढ़े पांच बजे फेसबुक पर लाइव आकर उद्धव ठाकरे ने जनता को सम्बोधित किया। उनके सम्बोधन में उनका निशाना शिंदे रहे, उद्धव ने कहा कि मुझे मुख्यमंत्री नहीं देखना था तो एकबार मुझसे कहा होता , या कोई भी विधायक आकर मुझसे बात करे और इस्तीफ़ा देने को कहे तो मैं फ़ौरन इस्तीफ़ा दे दूंगा यहाँ तक अगर शिव सैनिक चाहते हैं की पसख प्रमुख के पद पर भी न रहूँ तो मैं उसके लिए भी तैयार हूँ, लेकिन इसके लिए सीधे मुझसे बात करनी होगी न कि गुजरात या असम में जाकर। 

Read Also : Maharastra Politics Live: सामने आकर बोलो, मेरा इस्तीफ़ा तैयार है, बागियों को उद्धव का सन्देश

इस बीच खबर मिली है कि एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार से उन्किउंकि एकघंटा मुलाकात हुई, बताया जा रहा है कि पवार ने उद्धव को सलाह दी है कि एकनाथ शिंदे को मुख्यमंत्री बना दें, एनसीपी और कांग्रेस को इससे कोई ऐतराज़ नहीं नहीं, जबकि एकनाथ शिंदे शिव सेना से बग़ावत एनसीपी और कांग्रेस को लककर ही की है. शिंदे की पहली मांग है कि शिवसेना को MVA गठबंधन से निकलना होगा, क्योंकि पिछले डेढ़ सालों में एनसीपी और कॉंग्रेस की वजह से शिवसेना को बहुत नुक्सान हुआ है. बता दें कि एकनाथ शिंदे इस समय 40 विधायकों के साथ गुवाहाटी में मौजूद हैं और अपने गुट को असली शिव सेना बता रहे हैं.