Vice President Election 2022: उपराष्ट्रपति चुनाव को लेकर विपक्ष दो फाड़,टीएमसी ने मतदान से बनाई दूरी

 
Vice President Election 2022

नई दिल्ली। देश के राष्ट्रपति पद के चुनाव में बिखरी विपक्ष उपराष्ट्रपति चुनाव में भी एकता नहीं दिखा पाई। देश में होने वाले उपराष्ट्रपति चुनाव को लेकर अब टीएमसी ने अलग होने का फैसला किया है। यानी टीएमसी उपराष्ट्रपति चुनाव में किसी प्रकार से भी भाग नहीं लेगी। टीएमसी उपराष्ट्रपति चुनाव के लिए होने वाले मतदान से भी दूर रहेगी। बता दें कि देश के राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार घोषित करने वाली पार्टी टीएमसी ही थी। जिसने यशवंत सिंह को विपक्षी उम्मीदवार बनाया था। लेकिन राष्ट्रपति चुनाव में हुई क्रांस वोटिंग और विपक्ष की एकता बिखरने से टीएम सी ने अब उपराष्ट्रपति चुनाव में भाग नहीं लेने का फैसला किया। टीएमसी सांसद अभिषेक बनर्जी ने बताया कि टीएमसी एनडीए के उम्मीदवार जगदीप धनखड़ का समर्थन नहीं करेगी। उन्होंने कहा कि पार्टी की बैठक में यह तय किया गया है कि टीएमसी इस चुनाव में वोट नहीं करेगी। वहीं उन्होंने आरोप लगाया कि विपक्ष ने उम्मीदवार तय करने से पहले ममता बनर्जी से इस बारे में कोई चर्चा नहीं की। 

Read also: Putin Iran Visit: ईरान और रुस के बीच हुआ 40 अरब डॉलर का सौदा,खामनेई ने नाटो को बताया खतरनाक जीव

इससे पहले उपराराष्ट्रपति पद के लिए विपक्ष ने मार्गरेट अल्वा को साझा उम्मीदवार के रूप में नामांकन दाखिल करवाया था। लेकिन तृणमूल कांग्रेस का कोई प्रतिनिधि विपक्ष के इस नामांकन में भी शामिल नहीं हुआ। मार्गरेट अल्वा के नामांकन के समय एनसीपी के शरद पवार, कांग्रेस सांसद राहुल गांधी, माकपा महासचिव सीताराम येचुरी सहित विपक्षी दलों के दिग्गज नेता मौजूद रहे। लेकिन तृणमूल कांग्रेस ने नामांकन से अपनी दूरी बनाए रखी। बता दें कि उपराष्ट्रपति उम्मीदवार के चयन को लेकर विपक्षी दलों की बुलाई गई बैठक से भी तृणमूल कांग्रेस ने दूरी बनाई थी। ये बैठक एनसीपी प्रमुख शरद पवार की अगुवाई में बुलाई गई थी। इस समय संसद का मानसून सत्र चल रहा है और तृणमूल के अधिकांश सांसद दिल्ली में हैं।