भारत जोड़ो यात्रा के बैनरों में सावरकर की मौजूदगी

 
Bharat Jodo Yatra

गलती से ही सही कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा में विनायक दामोदर सावरकर इंट्री हो ही गयी और यह इंट्री भाजपा ने नहीं करवाई बल्कि कांग्रेस की अपनी गलती से हुई है. दरअसल केरल में इन दिनों गुज़र रही कांग्रेस पार्टी की भारत जोड़ो यात्रा के दौरान एर्नाकुलम जिले में एक बैनर लगाया जिसमें दूसरे स्वतंत्रता सेनानियों के साथ पंक्ति में सावरकर भी मौजूद थे, बैनर सोशल मीडिया में वायरल हो गया तब कांग्रेस की नींद खुली कि ये क्या हो गया. जिन सावरकर को कांग्रेस पार्टी कभी स्वतंत्रता सेनानी नहीं माना वो कांग्रेस की इस महत्वपूर्ण यात्रा में उनके बैनर में मौजूद थे.

बहरहाल कांग्रेस पार्टी इसे प्रिंटिंग मिस्टेक माना और जल्दी से सावरकर के चेहरे को महात्मा गाँधी से ढकने का प्रयास किया. दरअसल कांग्रेस पार्टी के लिए ये इतनी बड़ी मिस्टेक थी जिस पर कांग्रेस पार्टी को जवाब देते नहीं पड़ रहा है, यहाँ तक कि पुराने कांग्रेसी तो यहाँ तक कह रहे हैं कि यह जानबूझकर की गयी गलती है जो किसी संघी मानसिकता वाले कांग्रेसी ने की है. 

कांग्रेस की इस ब्लंडर पर चुटकी लेते हुए केरल के निर्दलीय विधायक पीवी अनवर ने फेसबुक पर इस तस्वीर को पोस्ट किया। उन्होंने आगे लिखा कि कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने सावरकर की फोटो के ऊपर महात्मा गांधी की तस्वीर लगाकर गलती को छुपाने की नाकाम कोशिश की. हालाँकि पहले यह बताया गया कि ये तस्वीर कर्नाटक की है जिसे स्वतंत्रता दिवस के मौके पर भाजपा ने लगाया था लेकिन बाद में यह साफ़ हुआ कि ये तस्वीर केरल में लगे कांग्रेस के बैनर की ही है. कांग्रेस की इस गलती पर भाजपा आई टी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने कहा कि कांग्रेस सावरकर का सच आखिरकार सामने ले ही आयी.