Amit Shah को कांग्रेस के काले कपड़ों पर ऐतराज़

 
Amit Shah

कांग्रेस पार्टी ने आज देश में बेतहाशा बढ़ती मंहगाई और बेरोज़गारी के मुद्दे पर दिल्ली समेत पूरे देश में ज़ोरदार विरोध प्रदर्शन किया। इस प्रदर्शन की ख़ास बात यह थी कि दिल्ली में राहुल गाँधी और प्रियंका वाड्रा समेत अधिकांश कांग्रेस सांसदों और नेताओं ने काले रंग के कपडे पहने हुए थे. कांग्रेस के इन्हीं काले कपड़ों पर अब केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह का बयान आया है. अमित शाह ने कांग्रेस पार्टी के इस काले विरोध प्रदर्शन को राम मंदिर से जोड़ दिया है.  

कांग्रेस के दिल्ली में हुए प्रदर्शन पर बड़ा बयान देते हुए गृह मंत्री अमित शाह ने साफ कहा है कि कांग्रेस पार्टी का ये विरोध प्रदर्शन महंगाई या फिर बेरोजगारी के खिलाफ नहीं था बल्कि आज ही दिन राम जन्म भूमि का शिलान्यास हुआ था इसलिए उसके विरोध में कांग्रेस नेताओं ने काले कपड़े पहन ये प्रदर्शन किया. अमित शाह ने कहा कि कांग्रेस ने अप्रत्यक्ष तरीके से तुष्टिकरण की पालिसी अपनाई है. अमित शाह ने कहा कि ईडी ने कोई समन नहीं किया फिर भी विरोध प्रदर्शन का कार्यक्रम रखा गया. शाह ने कहा कि आज सभी कांग्रेसी काले कपड़े पहन कर आए, आज ही के दिन राम जन्म भूमि का शिलान्यास किया गया था. इस विवादित मुद्दे का शांतिपूर्ण तरीके से समाधान हुआ था लेकिन कांग्रेस इससे खुश नहीं है. अमित शाह ने कहा कि ये राम मंदिर के विरोध के लिए काले कपड़ों का इस्तेमाल किया गया है.

Read also: Uttarakhand Weather: बारिश से बदरीनाथ हाइवे पानी में बहा,घरों के लिए आफत बनी बारिश

बता दें कि कांग्रेस पार्टी ने आज राष्ट्रपति भवन घेरो का आह्वाहन किया था. कांग्रेस नेता प्रियंका गाँधी का कहना था कि देश की मुख्यमंत्री को मंहगाई दिखाई नहीं देती, हम लोग राष्ट्रपति भवन तक मार्च करके मंहगाई को दिखाना चाह रहे थे. उन्हें बताना चाह रहे थे कि गैस सिलेंडर 1050 का हो चूका है, पेट्रोल डीज़ल के दाम 100 रूपये तक पहुँच गए हैं, बेरोज़गार नौजवान नौकरी के लिए भटक रहा है, रुपया रसातल में पहुँच गया है.