कांग्रेस के बाद Akhilesh Yadav ने भी मंहगाई पर सरकार को घेरा

 
Akhilesh Yadav

कल कांग्रेस पार्टी द्वारा दिल्ली समेत पूरे देश में मंहगाई और बेरोज़गारी पर केंद्र सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन के बाद आज समाजवादी पार्टी ने भी ट्वीट के ज़रिये इस मुद्दे पर सरकार पर हमला बोला है. सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने मोदी सरकार में कमाई घटने और मंहगाई बढ़ने की बात कही है. अखिलेश यादव ने दरअसल RBI के रेपो रेट घटाने को लेकर सरकार को घेरा है. 

विभिन्न मुद्दों पर अक्सर ट्वीट के ज़रिये केंद्र सरकार को घेरने वाले अखिलेश यादव ने एक खबर को पोस्ट करते हुए आज ट्वीट किया कि अब तो मंहगाई के साथ ही लोन पर EMI भी बढ़ रही रही है जब्कि कमाई लगातार घट रही है.अखिलेश ने मोदी सरकार के टैक्स प्रेम पर कटाक्ष करते हुए लिखा कि आज जनता का दुख-दर्द इतना बढ़ गया है कि अगर मोदी सरकार उस पर टैक्स लेने लगे तो उसे फिर किसी और टैक्स की ज़रूरत नहीं पड़ेगी। विपक्ष की सरकारों को गिराने के लिए भाजपा पर विधायकों की ख़रीद-फ़रोख़्त का आरोप लगते हुए अखिलेश ने लिखा कि भाजपा अपने भ्रष्टाचार का बोझ जनता पर डाल रही है। ट्वीट का अंत में उन्होंने निंदनीय लिखा! 

Read also: ED Summons Varsha Raut: शिवसेना सांसद संजय राउत की पत्नी वर्षा आज ईडी के सामने होगी पेश

इससे पहले अखिलेश यादव ने कहा था कि बढ़ती महंगाई के कारण विदेशों में शिक्षा प्राप्त करना मुश्किल होता जा रहा है। कृषि संसाधन महंगे हो गए है। घटा बढ़ने से व्यापारी परेशान है, खाने पीने की ज़रूरी वस्तुओं से लेकर रोज़मर्रा की हर चीज़ पर मंहगाई की मार पड़ी है. मगर सरकार की आँखों पर पट्टी बंधी हुई है उसे न ही जनता का दुःख दिखाई दे रहा है और न ही व्यापारियों की परेशानी। बता दें कि कल रिज़र्व बैंक ने मंहगाई पर कण्ट्रोल करने के लिए रेपो रेट में फिर कमी की है. RBI के इस कदम से लोन की EMI बढ़ने की बात कही जा रही, कुछ बैंकों ने तो इस बारे में घोषणा भी कर दी है.