इस्लामाबाद हाईकोर्ट इमरान, पूर्व मंत्रियों को एग्जिट कंट्रोल लिस्ट में डालने की याचिका पर सुनवाई करेगा

इस्लामाबाद, 10 अप्रैल (आईएएनएस)। इस्लामाबाद उच्च न्यायालय (आईएचसी) पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान और उनके मंत्रियों के नाम एग्जिट कंट्रोल लिस्ट (ईसीएल) में रखने और कथित धमकी पत्र मामले की जांच का आदेश देने की मांग वाली याचिका पर सोमवार को सुनवाई करेगा।
 
इस्लामाबाद हाईकोर्ट इमरान, पूर्व मंत्रियों को एग्जिट कंट्रोल लिस्ट में डालने की याचिका पर सुनवाई करेगा
इस्लामाबाद हाईकोर्ट इमरान, पूर्व मंत्रियों को एग्जिट कंट्रोल लिस्ट में डालने की याचिका पर सुनवाई करेगा इस्लामाबाद, 10 अप्रैल (आईएएनएस)। इस्लामाबाद उच्च न्यायालय (आईएचसी) पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान और उनके मंत्रियों के नाम एग्जिट कंट्रोल लिस्ट (ईसीएल) में रखने और कथित धमकी पत्र मामले की जांच का आदेश देने की मांग वाली याचिका पर सोमवार को सुनवाई करेगा।

द न्यूज इंटरनेशनल की रिपोर्ट के अनुसार, याचिका मौलवी इकबाल हैदर ने दायर की है, जिन्होंने हाईकोर्ट से खान, फवाद चौधरी और शाह महमूद कुरैशी, पूर्व डिप्टी स्पीकर कासिम सूरी और असद मजीद के नाम ईसीएल पर रखने का अनुरोध किया है।

उन्होंने अदालत से पूर्व प्रधानमंत्री और मंत्रियों के खिलाफ कथित धमकीभरे पत्र के संबंध में जांच का आदेश जारी करने का भी अनुरोध किया।

हैदर ने यह याचिका उस समय दायर की थी जब विपक्ष द्वारा उनके खिलाफ एक सफल अविश्वास मत के परिणामस्वरूप पद से हटाए जाने के बाद रविवार को खान ने प्रधानमंत्री आवास छोड़ दिया था।

342 सदस्यों वाली नेशनल असेंबली में कुल 174 सदस्यों ने खान को बाहर करने के पक्ष में मतदान किया।

वह अब पाकिस्तान के इतिहास में पहले ऐसे प्रधानमंत्री बन गए हैं, जिन्हें अविश्वास प्रस्ताव के जरिए सत्ता से बेदखल किया गया है।

उनसे पहले, 2006 में शौकत अजीज और 1989 में बेनजीर भुट्टो, वह उनके खिलाफ कदमों से बच गए।

--आईएएनएस

एसजीके