depo 25 bonus 25 to 5x Daftar SBOBET

नितीश कुमार को लेकर PK ने कह दी बड़ी बात, नहीं मिलेंगी 20 सीटें

नेशनलनितीश कुमार को लेकर PK ने कह दी बड़ी बात, नहीं मिलेंगी...

Date:

बिहार की राजनीती में आज उस समय एक नाटकीय मोड़ आया जब नितीश कुमार ने महागठबंधन से नाता तोड़कर मुख्यमंत्री पद से इस्तीफ़ा दे दिया और राज्यपाल से नई सरकार के गठन की सिफारिश कर दी. राज्यपाल ने चरण इस्तीफा मंज़ूर कर लिया और नितीश कुमार को कार्यवाहक मुख्यमंत्री नियुक्त कर दिया और इसके बाद नितीश की 9वीं बार ताजपोशी की तैयारियां होने लगीं , कैबिनेट में नितीश के साथ कौन कौन एडजस्ट होगा, नितीश कुमार के दांये और बांये रहने वाले उपमुख्यमंत्री कौन होंगे, इस सबकी चर्चा होने लगी, नाम भी सामने आ गए. इन सारी हलचलों के बीच मोदी जी को केंद्र में लाने और प्रधानमंत्री के रूप में स्थापित करने वाले और अब उनसे काफी दूर जाने वाले चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने नितीश कुमार को लेकर एक बड़ी भविष्यवाणी की है। इसे भविष्यवाणी ही नहीं प्रशांत किशोर का दावा भी कह सकते हैं क्योंकि उनकी बात अगर सही नहीं निकली तो वो सन्यास भी ले सकते हैं, तो एकतरह से उन्होंने अपना राजनीतिक जीवन ही अपने दावे के दांव पर लगा दिया है.

प्रशांत किशोर ने कहा कि नितीश कुमार अब चाहे जिसके साथ गठबंधन करके सरकार बना लें और एकबार फिर मुख्यमंत्री बन जांय लेकिन अगले विधानसभा चुनाव में उन्हें 20 से ज़्यादा सीटें नहीं मिलने वाली और अगर जेडीयू को बीस से ज़्यादा मिल गयीं तो वो अपने राजनीतिक जीवन से संन्यास ले लेंगे. पीके ने साथ ही ये भी कहा कि भाजपा से नितीश की ये नई दोस्ती 2025 तक नहीं चल पाएगी और नितीश से हाथ मिलाना भाजपा को भी बहुत भारी पड़ने वाला है क्योंकि नितीश की जो इमेज बन चुकी है उसमें उनके साथ रहने वाले का भी बंटाधार होना पक्का है.

इसके साथ ही प्रशांत किशोर ने कहा कि बिहार में सिर्फ नितीश ही नहीं बल्कि सभी दल पलटूराम हैं। पीके ने कहा कि मैं तो पिछले एकसाल से लगातार कह रह हूँ कि नितीश कुमार कभी भी पलटी मार सकते हैं, भाजपा के कभी साथी रहे पीके ने कहा, पलटी मारना नितीश की राजनीति का हिस्सा है, पलटुराम के रूप में उनकी पहचान बन चुकी है. जनता भी जानती है कि नितीश कुमार पलटुरामों के सरदार हैं। पीके ने कहा कि आज यह भी तय हुआ की भाजपा भी उतनी ही बड़ी पलटूमार है क्योंकि कुछ दिनों पहले तक भाजपा के छोटे बड़े सभी नेता कहा रहे थे कि नीतीश कुमार के लिए बिहार में बीजेपी का दरवाजा बंद है। कल तक नीतीश कुमार को गालियां देने वाले भाजपा समर्थक आज उन्हें सुशासन की नयी प्रतिमूर्ति बताने लगेंगे हैं।

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related

एक और भाजपा प्रत्याशी का चुनाव लड़ने से इंकार, वजह तो जान लीजिये

भाजपा के साथ इसबार बहुत कुछ अप्रत्याशित हो रहा...

विदेशों से पैसा भेजना होगा आसान और सस्ता

डब्लूटीओ में रेमिटेंस पर लगने वाले सीमा शुल्क को...

सुनील भारती मित्तल को मिला मानद नाइटहुड सम्मान

मशहूर उद्योगपति सुनील भारती मित्तल को ब्रिटेन में किंग...

लालू ने मोदी को कहा, तुम हिन्दू भी नहीं हो

पटना के गांधी मैदान में आज इंडिया गठबंधन के...