depo 25 bonus 25 to 5x Daftar SBOBET

OMG!: हिमाचल में मात्र इतने वोट से सत्ता गँवा बैठी भाजपा

पॉलिटिक्सOMG!: हिमाचल में मात्र इतने वोट से सत्ता गँवा बैठी भाजपा

Date:

कहते हैं कि चुनाव में एक एक वोट का बड़ा महत्त्व होता है, यह बात हिमाचल के चुनाव नतीजों पर बिलकुल सटीक बैठती है. मात्र 37,974 कमी से हिमाचल प्रदेश की डबल इंजन की सरकार कांग्रेस के हाथ के हाथों मात खा गयी. अंदाज़ा लगा सकते हैं कि मुकाबला कितना कांटे का रहा होगा। एक एक सीट पर कितनी सख्त लड़ाई हुई होगी। बता दें कि कांग्रेस पार्टी ने इस बार 40 सीटों पर जीत हासिल की है वहीँ सत्ता रूढ़ भाजपा को 25 सीटों पर जीत मिली है, वहीँ आम आदमी को हिमाचल के लोगों ने सिरे से नकार दिया है.

सिर्फ 37,974 से हार गयी भाजपा

वोट शेयर की बात करें तो कांग्रेस और भाजपा में एक प्रतिशत से भी कम मतों का अंतर है. कांग्रेस को जहाँ 43.9 फीसदी वोट शेयर हासिल हुआ वहीँ भाजपा को 43 प्रतिशत वोट मिला। कांग्रेस को जहाँ 18,52,504 वोट मिले वहीँ भाजपा को 18,14,530 लोगों ने वोट डाला . 2017 की बात करें तो यह अंतर 7.11 भाजपा के पक्ष में था और उसे 44 सीटें मिली थी, वहीँ कांग्रेस को 21 सीटें मिली थीं. इस बार के चुनाव नतीजों को अगर देखें तो जीत का औसत अंतर 6,575 दर्ज किया गया है, इसमें भाजपा की जीत का मत अंतर 7,427 वोट और कांग्रेस का 5,784 वोट से कम रहा .

सबसे नज़दीकी जीत 60 वोटों से

मतों के अंतर से सबसे बड़ी जीत मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को मिली है जिन्होंने ने कांग्रेस के चेतराम को 38,183 मतों के अंतर से हराया. वहीँ सबसे कम अंतर से भोरंज से कांग्रेस उम्मीदवार सुरेश कुमार ने भाजपा के डॉ अनिल धीमान को हराया है, यहाँ जीत का अंतर सर 60 मत रहा है. इस बार कुल आठ सीटें ऐसी रही हैं जहाँ पर जीत का अंतर एक हज़ार से कम का रहा है. इन सीटों में भोरंज (60), शिलाई (382), सुजानपुर (399), रामपुर (567) और श्री रेणुकाजी (860) ,श्री नैना देवीजी (171), बिलासपुर (276) और दरंग (618) हैं इनमें अंतिम तीन सीटें बजपा ने जीतीं हैं, वहीँ सात ऐसी सीटें रहीं जहाँ पर मतों का एक से दो हज़ार के बीच रहा है.

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related

ऑनलाइन गेमिंग सेक्टर को GST मुद्दे पर फिलहाल राहत नहीं

ऑनलाइन गेमिंग क्षेत्र, जो पूर्ण अंकित मूल्य पर 28...

अफ़ग़ानिस्तान सुपर 8 में, न्यूज़ीलैण्ड हुआ बाहर

टी20 वर्ल्ड कप के 29वें मैच में अफगानिस्तान ने...

नीट-यूजी परीक्षा: NTA की याचिका पर निजी पक्षों को नोटिस, सुनवाई 8 जुलाई को

शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए)...