depo 25 bonus 25 to 5x Daftar SBOBET

गैर मेट्रो शहर नौकरी देने के मामले आगे

बिज़नेसगैर मेट्रो शहर नौकरी देने के मामले आगे

Date:

जॉबस्पीक इंडेक्स की रिपोर्ट के मुताबिक नौकरियां देने के मामले में गैर-मेट्रो शहरों यानि छोटे और मंझोले शहरों ने मेट्रो शहरों को पीछे छोड़ दिया है। नॉन मेट्रो शहरों में सबसे ज्यादा नौकरियां वडोदरा में मिली हैं. वडोदरा में अक्टूबर-नवंबर 2023 में सालाना आधार पर नई नौकरियों में 9 फीसदी का इज़ाफ़ा हुआ है. नौकरी देने के मामले में अहमदाबाद स्थिर बना हुआ जबकि मेट्रो शहर दिल्ली एनसीआर और मुंबई में 12 प्रतिशत का निगेटिव इज़ाफ़ा देखा गया है। आईटी-केंद्रित बेंगलुरु, हैदराबाद, चेन्नई और पुणे के शहरों में 2022 की अक्टूबर-नवंबर अवधि की तुलना में 2023 की अक्टूबर-नवंबर अवधि में 20, 18 , 21 और 18 प्रतिशत की नकारात्मक वृद्धि देखी गई है। .

पिछले साल की तुलना में अक्टूबर-नवंबर अवधि में तेल सेक्टर में भर्ती में 9 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है. मशीन ऑपरेटर/मशीनिस्ट, इंस्ट्रुमेंटेशन इंजीनियर और मेंटेनेंस हेड कुछ ऐसी नौकरियां थीं जिनकी इस क्षेत्र में अच्छी मांग देखी गई है। अक्टूबर-नवंबर 2022 की तुलना में अक्टूबर-नवंबर 2023 के महीनों में इन तीन नौकरियों में 39 प्रतिशत, 25 प्रतिशत और 7 प्रतिशत की वृद्धि देखी गई है।

वहीँ फार्मा सेक्टर में अक्टूबर-नवंबर 2023 के महीनों में नई नौकरियों में सालाना आधार पर 6 फीसदी का इज़ाफ़ा देखा गया है. फार्मा सेक्टर में लैब टेक्निशियन, क्लिनिकल असिस्टेंट और स्टोर कीपर की नौकरियों में सबसे ज्यादा बढ़ोतरी देखी गई. बीमा क्षेत्र में भी अक्टूबर-नवंबर 2023 में नौकरियों में सालाना आधार पर 5 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। ब्रांच सेल्स एक्जीक्यूटिव, एरिया सेल्स मैनेजर और ब्रांच सेल्स मैनेजर कुछ ऐसी नौकरियां थीं जिनमें 2023 की अक्टूबर-नवंबर अवधि में वार्षिक आधार पर 16 प्रतिशत, 12 प्रतिशत और 17 प्रतिशत की वृद्धि देखी गई।

वहीँ आईटी सेक्टर पर दबाव देखा जा रहा, अक्टूबर-नवंबर 2023 में इस सेक्टर की कुल भर्तियों में सालाना आधार पर 22 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई. मशीन लर्निंग इंजीनियर और फुल स्टैक डेटा साइंटिस्ट जैसे एआई से जुड़े क्षेत्रों में नौकरी के नए अवसर बढ़े हैं। कंपनियों द्वारा की जा रही भर्ती में वरिष्ठ पेशेवरों को प्राथमिकता जारी है। 2023 की अक्टूबर-नवंबर अवधि में 16 वर्ष से अधिक अनुभव वाले वरिष्ठ पेशेवरों की भर्ती में वार्षिक आधार पर 26 प्रतिशत की भारी वृद्धि हुई है।

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related

अमिताभकांत का दावा, 11 प्रतिशत की दर से आगे बढ़ेगा भारत

नीति आयोग के पूर्व सीईओ अमिताभ कांत ने दावा...

मुनाफावसूली के मूड में खुला शेयर बाजार

हफ्ते के पहले कारोबारी दिन भारतीय शेयर बाजार में...

राजनीतिक अंतरात्मा

अमित बिश्नोईराज्यसभा के चुनाव संपन्न हो गए, नतीजे भी...