Uttarpradesh News Today: वाट्सएप पर चल रहा था जिस्मफरोशी का धंधा, दो कालगर्ल्स समेत चार गिरफ्तार

 
UP NEWS HINDI

नोएडा। वाट्सएप पर जिस्मफरोशी का धंधा चलाने वाले एक गिरोह का पुलिस और एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग की टीम ने पर्दाफाश किया है। जिसमें गिरोह की दो कालगर्ल्स और दो एजेंट गिरफ्तार किए गए हैं। ये लोग आनलाइन वाटसएप पर ग्रुप बनाकर जिस्मफरोशी का धंधा चला रहे थे। पुलिस और एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग सेल को पिछले काफी दिनों से सूचना मिल रही थी कि सोशल मीडिया पर वाट्सएप ग्रुप पर   ऑनलाइन बुकिंग कर कॉलगर्ल सप्लाई की जा रही है। इस गिरोह ने कई ग्रुप बनाए हुए हैं। जिनमें अपने ग्राहकों से बात करने के अलावा कालगर्ल्स का सौदा भी करते थे। एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग की टीम और पुलिस ने संयुक्त रूप से लड़कियों की सप्लाई करने आए गिरोह के दो लोगों को नोएडा के बिशनपुरा के पास से देर रात गिरफ्तार किया। इनके साथ दो लड़कियों भी थी। उनसे पूछताछ की जा रही है। पकड़े गए आरोपियों के पास से कालगर्ल्स सप्लाई में प्रयोग की जाने वाली लग्जरी कारों के अलावा दो मोबाइल और 10 हजार रुपये नकद बरामद किए हैं। पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए युवकों भुनेश और मोहम्मद रजाउल्ला ने बताया कि वे लोग ऑनलाइन बुकिंग कर कॉलगर्ल सप्लाई करते हैं। शहर में कई ऐसे लोग हैं, जो आनलाइन बुकिग कर उनसे लड़कियां मंगवाते है। 

Read also: Road Accident in Meerut : सड़क हादसे में मेरठ के तीन युवकों की मौत,हादसे से गांव में कोहराम

पुलिस ने बताया कि उनकेा सूचना मिलने के बाद एएचटीयू और उनकी टीम के लोग फर्जी ग्राहक बनकर आरोपियों के संपर्क में आए। जब आरोपी बताए गए पते पर कालगर्ल्स लेकर पहुंचे तो पुलिस ने दबोच लिया। पूछ्ताछ में दोनों ने बताया कि व्हाट्सएप के माध्यम पहले तो लोगों से संपर्क करते थे। देह व्यापार में लिप्त लड़कियों की अश्लील फोटो भेजते थे। इसके बाद ग्राहक से बात होने के बाद युवतियों को दिए गए पते पर भेज दिया जाता था। एसीपी रजनीश वर्मा ने बताया कि गरीब घरों की युवतियों को ये लोग सेलरी पर रखकर देह व्यापार का धंधा करवाते थे। मौके पर मिली युवती बुलंदशहर और दूसरी गाजियाबाद की रहने वाली है। युवतियों ने बताया कि वो दोनों अपने पति से अलग रह रही हैं। पैसे के लिए उन्होंने इस पेशे को अपनाया।