Moradabad SDM: फर्नीचर कारोबारी के मकान पर बुलडोजर चलाने वाले एसडीएम पर गिरी गाज,शासन ने किया सस्पेंड

 
Moradabad SDM

मुरादाबाद। जिले में एसडीम घनश्याम वर्मा पर आखिरकार गाज गिर ही गई है। फर्नीचर के पैसे मांगने पर कारोबारी के मकान पर बुलडोजर चलवाने के आरोपी एसडीएम घनश्याम वर्मा को शासन ने सस्पेंड कर दिया है। घनश्याम वर्मा बिलारी तहसील में एसडीएम पद पर तैनात थे। बताया जाता है कि जांच में उनको दोषी पाया गया था। जिसके बाद शासन की ओर से ये कार्रवाई की गई है। एसडीएम घनश्याम वर्मा पर आरोप है कि उन्होंने फर्नीचर कारोबारी के शोरूम से 2.67 लाख रुपए का फर्नीचर लिया था। कारोबारी ने पेमेंट करने को कहा तो एसडीएम ने उसके घर को अवैध बताकर बुलडोजर चलवा दिया था। इस मामले को लेकर सोशल मीडिया पर गुस्सा देखने को मिला था।

Read also: लापरवाही ! IIMT University का वीसी बना फर्जी डिग्रीधारी अपराधी, सामने आई प्रबंधनतंत्र की लापरवाही तो शुरू हुई लीपापोती

मामला सामने आने के बाद मुरादाबाद कमिश्नर के आदेश पर एसडीएम के खिलाफ जांच शुरू की गई थी। जांच के बाद शासन स्तर पर रिपोर्ट भेज दी गई थी। जिसके बाद एसडीएम घनश्याम वर्मा को निलंबित कर दिया गया। बताया जा रहा है कि आरोपी घनश्याम वर्मा ने अपने और बेटी के नाम पर फर्नीचर खरीदे थे। आरोप है कि पैसे मांगने पर घनश्याम वर्मा फर्नीचर कारोबारी के घर बुलडोजर लेकर पहुंच गए थे और उनकी दीवार पर बुलडोजर चलवा दिया था। इसके बाद पीड़ित व्यापारी ने इसकी शिकायत लिखित में की थी। इसके बाद मंडलायुक्त  ने जांच के आदेश दिए थे।