Rudrabhishek Agra Taj Mahal: ताजमहल में रूद्राभिषेक का ऐलान,हिंदूवादी नेता घर में नजरबंद

 
Rudrabhishek Agra Taj Mahal

आगरा। अखिल भारत हिंदू महासभा ने आज सावन के तीसरे सोमवार ताजमहल में रुद्राभिषेक करने का ऐलान किया था। इसकी सूचना मिलते ही पुलिस के हाथ पैर फूल गए। पुलिस अधिकारी तुरंत अलर्ट मोड़ पर आ गए और उन्होंने हिंदू महासभा के पदाधिकारियों के घर के बाहर पुलिस बल तैनात कर दिया। पुलिस ने हिंदू महासभा के सभी पदाधिकारियों को घर में नजरबंद कर दिया है। सुबह से सभी पदाधिकारियेां के घर के बाहर फोर्स तैनात है। इस बारे में सीओ सदर अर्चना सिंह ने बताया कि एक हिंदूवादी संगठन ने ताजमहल में रुद्राभिषेक करने के ऐलान किया था जिसके बाद पुलिस ने ये कार्रवाई की है। संगठन से जुड़े सभी लोगों की निगरानी की जा रही है। कोई भी काम कानून के विरुद्ध नहीं होने दिया जाएगा। 

अखिल भारत हिंदू महासभा पदाधिकारियों ने ताजमहल को तेजोमहालय बताते हुए यह घोषणा की थी। उन्होंने आज सोमवार को ताजमहल पर परिक्रमा करने के बाद रुद्राभिषेक करने की घोषणा की थी। इस पर पुलिस सुबह से ही पदाधिकारियों के घर पहुंच गई थी। संगठन पदाधिकारी मीना दिवाकर और जितेंद्र कुशवाह को उनके घर में नजरबंद कर दिया गया है। हिंदूवादी नेता अवतार सिंह गिल को ताजगंज स्थित उनके घर में नजरबंद किया गया है।  पुलिस दोपहर तक पदाधिकारियों को नजरबंद करने में जुटी रही। इस बीच हिंदू महासभा के कई कार्यकर्ता महताब बाग के पास बनी 11 सीढ़ी पर पहुंच गए। जहां संगठन के कार्यकर्ताओं ने ताजमहल को तेजोमहालय बताकर जलाभिषेक कर दिया। इस दौरान कार्यकर्ताओं ने जय श्रीराम के जयकारे भी लगाए।  

Read also: NIA Raid In Deoband: देवबंद दारुल उलूम से हिरासत में लिए गए युवक को आठ घंटे की पूछताछ के बाद एनआईए ने छोड़ा

हिंदूवादी लोग पहले भी इस तरह का ऐलान कर चुके हैं। गत मई में अयोध्या के एक संत परमहंस दास ने ताजमहल को तेजोमहालय बताकर नई बहस को जन्म दिया है। परमहंस दास ने ताजमहल में भूमि पूजन की भी घोषणा की थी। हालांकि उन्हें पुलिस ने रास्ते में रोक लिया था और एक रात नजरंबद रखा गया था। अयोध्या के एक भाजपा नेता ने ताजमहल के बंद कमरों को खुलवाने की मांग को लेकर लखनऊ हाईकोर्ट पीठ में याचिका दाखिल की थी।  जिसे बाद में खारिज कर दिया था।