Gyanvapi Masjid Case: ज्ञानवापी मस्जिद प्रकरण में हिंदू पक्ष ने बनाया नया ट्रस्ट,आज होगी विधिवत घोषणा

 
Gyanvapi Masjid

लखनऊ। प्रदेश के काशी विश्वनाथ मंदिर परिसर स्थित ज्ञानवापी मस्जिद प्रकरण में आगामी मंगलवार को होने वाली कोर्ट सुनवाई से पहले एक बड़ा घटनाक्रम सामने आया है। ज्ञानवापी मामले में हिंदू पक्ष ने अब ट्रस्ट बनाने का ऐलान किया है। ट्रस्ट का नाम श्रीआदि महादेव काशी धर्मालय मुक्ति न्यास रखा है। जिसका आज उद्घाटन होगा। इन नए ट्रस्ट पर कोर्ट में जारी मामले को देखने की जिम्मेदारी होगी।

Read also: Uttarpradesh News Today: टूटी पटरी से निकली तेज रफ्तार काशी विश्वनाथ एक्सप्रेस टला बड़ा हादसा

बताया जा रहा है कि आज शाम पांच बजे मलदहिया के एक निजी रेस्टोरेंट में वादी चारों महिलाओं सहित हिंदू पक्ष के वकीलों की मौजूदगी में ट्रस्ट का उद्घाटन किया जाएगा। सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ अधिवक्ता हरिशंकर जैन और उनके बेटे विष्णु शंकर जैन एवं हाईकोर्ट अधिवक्ता रंजना अग्निहोत्री समेत कई अन्य लोग इस अवसर पर मौजूद रहेंगे।

सूत्रों की मानें तो यह छोटा सा उद्घाटन समारोह है। जिसमें पांच अतिथि, 11 ट्रस्टी, 21 सम्मानित ट्रस्टी और चार वादी महिलायें शामिल होंगी। बताया जाता  है कि ट्रस्ट में इतने लोग रहेंगे। ट्रस्ट का काम अदालत में चल रहे केस को कानूनी रूप से देखना है। इतना ही नहीं ट्रस्ट खर्च से लेकर अन्य सभी जिम्मेदारियों को भी निभाएगा।

Read also: Jamiat Ulema-E-Hind Deoband: जमीअत के जलसे में काशी-मथुरा विवाद पर पेश हुए प्रस्ताव

बता दें काशी विश्वनाथ मंदिर परिसर स्थित ज्ञानवापी श्रृंगार गौरी प्रकरण में आगामी मंगलवार को कोर्ट में  सुनवाई होगी। अभी केस मेरिट पर सुनवाई चल रही है। मुस्लिम पक्ष अपनी दलीलें पेश कर रहे हैं। इसके बाद हिंदू पक्ष अदालत के सामने दावा पेश करेगा। बता दें कि बीते दिनों ज्ञानवापी मस्जिद में हिंदू पक्ष ने शिवलिंग मिलने का दावा किया था। जबकि मुस्लिम पक्ष ने इसे फव्वारा बताया था। इसके बाद उसकी जांच के लिए भेज दिया गया था। हालांकि कोर्ट ने इस बारे में अभी कुछ नहीं कहा है।