Gold Jewellery Hallmark: कल से 32 शहरों में लागू होने जा रही हॉलमार्क व्यवस्था, यूपी के ये शहर शामिल

 
Gold Jewellery Hallmark

मेरठ। कल यानी एक जून से देश के 32 और शहरों में हॉलमार्क व्यवस्था लागू होने जा रही है। इस नई व्यव्स्था के तहत ज्वेलरी बनवाने से लेकर ज्वेलरी खरीदने वाले का नाम और वजन के साथ भी पोर्टल पर दर्ज कराना होगा। इसके लिए हॉलमार्क हाईलेवल कमेटी के सदस्यों से गत 30 मई तक केंद्रीय उपभोक्ता मंत्रालय ने सुझाव मांगे थे। अब आगामी एक जून यानी बुधवार से हॉलमार्क का दूसरा चरण सख्ती के साथ लागू करने की तैयारी हो चुकी है। पिछले साल 2021 में हॉलमार्क व्यवस्था में देश के 256 जिले शामिल किए थे। अब एक जून यानी कल से इन 256 जिलों के साथ 32 जिले और शामिल कर लिए गए हैं। अब हॉलमार्क व्यवस्था वाले जिलों की संख्या बढ़कर 288 पर पहुंच गई है। हॉलमार्क व्यवस्था लागू होने के बाद ज्वेलरी बनाने से लेकर खरीदने वाले ग्राहक की पूरी जानकारी एचयूआईडी पोर्टल पर अपलोड करनी होगी। इसी के साथ ही ज्वेलरी के मालिक के साथ उसका वजन और कीमत भी अंकित करनी होगी। इसके बाद इनमें अगर किसी तरह की गड़बड़ी होती है तो वो तुंरत पकड़ में आएगी और उसके बाद सख्त कार्रवाई की जाएगी। 

Read also: केंद्र से भाजपा सरकार को जाना ही होगा: ममता बनर्जी

भारतीय मानक ब्यूरो के डीजी आफिस की तरफ से हॉलमार्क कमेटी के सभी 24 सदस्यों को पत्र लिखकर कहा है कि बनने से लेकर बिकने वाले हर ज्वेलरी की जानकारी पोर्टल पर उपलब्ध कराई जाए। इस संबंध में उनसे सुझाव भी मांगे गए हैं। मेरठ नील की गली सराफ एसोसिएशन के डा0 सजीव अग्रवाल ने बताया कि इससे सराफा व्यापारियों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ेगा। खुदरा विक्रेता ने कब और किस ग्राहक को बेचा। खरीदार के नाम के साथ जवेलरी का वजन और दाम पोर्टल पर होगा। हालमार्क के दूसरे चरण के तहत बीआईएस ने पोल्की,कुंदन और जड़ाऊ पर हॉलमार्किंग लागू करने की तैयारी है। इस बारे में कमेटी के सदस्यों से सुझाव मांगे हैं। इस नई व्यवस्था के तहत टांके वाली ज्वेलरी की जांच हालमार्क सेंटर पर कराई जा सकेगी।  प्रदेश के इन जिलों में लागू है हॉल मार्किग व्यवस्था  उत्तर प्रदेश में आगरा,कानपुर, प्रयागराज, बरेली, देवरिया, बदायूं, गोरखपुर, गाजियाबाद, झांसी, जौनपुर, लखनऊ, मथुरा, मुरादाबाद, मेरठ, गौतमबुद्ध नगर, मुजफ्फरनगर, वाराणसी,  सहारनपुर और शाहजहांपुर हैं।