Eid Al Adha 2022: मस्जिदों में अदा हुई ईद उल अजहा की नमाज,सुरक्षा के खास इंतजाम

 
Eid-ul-Adha

लखनऊ। प्रदेश में ईद उल अजहा का पर्व धूमधाम मनाया जा रहा है। मेरठ सहित प्रदेश की 28260 मस्जिदों और ईदगाहों में नमाज अदा की गई। अकीदतमंद सुबह से मस्जिदों में एकत्र होकर नमाज अदा कर रहे हैं। मेरठ की शादी जामा मस्जिद में ईद की नमाज अदा की गई। इसके अलावा विभिन्न मस्जिदों में नमाज का समय सुबह सात बजे से शुरू होकर दोपहर दो बजे तक है।

Read also: अयोध्या ने दिया सौहार्द का संदेश, जन्मभूमि के पुजारी ने इकबाल के घर पहुंचकर दी ईद की बधाई

लखनऊ में ईदगाह के साथ टीले वाली मस्जिद में नमाजियों की भारी भीड़ रही। कानपुर, प्रयागराज में भी सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए हैं। राजधानी लखनऊ, कानपुर,मेरठ, प्रयागराज, आगरा, सहारनपुर, वाराणसी, बरेली और गोरखपुर में पुलिस मुस्तैद है। राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ईद के मौके पर प्रदेशवासियों को बधाई दी है।


राज्यपाल ने कहा कि ईद उल अजहा का पर्व सभी  लोग मिलकर सद्भाव के साथ मनाएं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ईद के मौके पर प्रदेशवासियों को हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं दी हैं। उन्होंने कहा कि पर्व हमें मिल-जुलकर रहने और आपसी सद्भाव बनाए रखने की प्रेरणा देता है। सीएम योगी ने अपील की कि कोरोना संक्रमण को देखते हुए जरूरी सावधानियां बरतते हुए पर्व को मनाएं। प्रदेश विधान सभा अध्यक्ष सतीश महाना ने लोगों को मुबारकबाद दी और उनके सुख-समृद्धि की कामना की है। उन्होंने कहा कि इस प्रमुख त्योहार को आपसी सौहार्द एवं हर्षोउल्लास के साथ मनाया जाना चाहिए।


अपर पुलिस महानिदेशक कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार ने बताया कि बकरीद को देखते हुए प्रदेश के 11 जिले अतिसंवेदनशील चिन्हित किए हैं। प्रदेश में 28260 मस्जिदों और ईदगाहों में ईद उल अजहा की नमाज अदा हो गई है। सभी जिलों के पुलिस अफसरों को लगातार भ्रमणशील रहने और सतर्क रहने के निर्देश दिए हैं।

Read also: Agneepath Yojana के विरोध में 20 को दिल्ली कूच करने का ऐलान, मेरठ पहुँची आग


उन्होंने बताया कि प्रदेश में 2167 स्थल संप्रदायिक दृष्टि से संवेदनशील है। कुल 1500 थाना क्षेत्रों में 2167 स्थल संप्रदायिक दृष्टि से संवेदनशील घोषित किए हैं। इन पर खास नजर रखी जा रही है। सुरक्षा व्यवस्था के इंतजाम पुख्ता करने के लिए 2422 सेक्टर बनाए हैं और 1539 क्विक रिस्पांस टीम तैनाती की है। सुरक्षा व्यवस्था के मददेनजर पीएसी की 152 कंपनी पुलिस मुख्यालय स्तर से उपलब्ध कराई है।